# एक अधूरी प्रेम कहानी #..12

Originally posted on Retiredकलम:
तुम बिन ज़िन्दगी आज सुबह उठा तो मन एक दम ताज़ा लग रहा था / कल का दिन ख़ुशी से जो बिता और रात में नींद भी मस्त आयी / मैं हाथ जोड़ कर भगवान् को प्रणाम किया और बिस्तर को ठीक कर रहा था तभी विकास हाथ में चाय ले…

मौत की ख़बरों के बीच

पिछले कुछ दिनों से सारे समाचार माध्यमों में एक खबर सुर्ख़ियों में है … नदी में तैरते लाशों के सम्बन्ध में | ऐसा समाचार सुन कर मन विचलित हो जाता है | यह कैसा समय आ गया है , आदमी हर पल बस अपने मौत के आने के डर  से तिल – तिल कर मरContinue reading “मौत की ख़बरों के बीच”

आइये लाफ्टर डे मनाएं

दोस्तों , हम हर साल मई माह के प्रथम रविवार को world laughter day मनाते है | यह एक ऐसा दिन है , जब हम खुल कर हँसने की कोशिश करते है और कुछ समय के लिए तनाव मुक्त हो जाते है | हर कोई जानता है कि हँसना बहुत ज़रूरी है | इस सेContinue reading “आइये लाफ्टर डे मनाएं”

# एक अधूरी प्रेम कहानी #..11

Originally posted on Retiredकलम:
source: Google.com तेरा साथ है तो सिलसिला ये चाहत का दोनों तरफ से था , वो मेरी जान चाहती थी और मैं जान से ज्यादा उसे…. सुमन खाना खा कर बिस्तर पर लेट गई लेकिन उसे नींद नहीं आ रही थी | वह सोच रही थी …आज का दिन बहुत अच्छा…

# महाभारत की बातें #..8

अश्वत्थामा आज भी जिंदा है अश्वत्थामा का जन्म द्वापर  युग में हुआ था । इनके पिता का  नाम द्रोणाचार्य और माता का नाम कृपी था  । कहानी कुछ इस तरह है कि द्रोणाचार्य को लम्बे समय तक कोई पुत्र प्राप्ति नहीं हो रही थी | इसलिए वे  भटकते  हुए हिमाचल की वादियों में पहुँच गए |Continue reading “# महाभारत की बातें #..8”

# एक अधूरी प्रेम कहानी #..10

Originally posted on Retiredकलम:
source:Google.com तेरी मेहरबानियाँ भूल जाओ अगर हमको , यह तेरा अधिकार है हम कैसे भूल जाए, मुझे तो तुमसे ही प्यार है.. आज सुमन बहुत खुश थी ,आज ना जाने कितने दिनों बाद हम साथ – साथ मुंबई के सडको पर, बिना किसी भय और संकोच के दो प्रेमी की तरह…