Uncategorized

# छठे दरवाजे का रहस्य #..1

Originally posted on Retiredकलम:
भगवान विष्णु?के दर्शन कोई भी रहस्मय कहानी या हकीकत पढने और सुनने में बहुत मज़ा आता है | क्योंकि उसमे रहस्य और रोमांच होता है जो हमारे अन्दर न सिर्फ जिज्ञासा पैदा करता है बल्कि एक…

# प्यारी दोस्त गौरैया #

Originally posted on Retiredकलम:
? दोस्तों कुछ दिनों पूर्व यानी २० मार्च को दुनिया भर में ?विश्व गौरैया दिवस (World Sparrow Day) मनाया गया | इसका मुख्य उद्देश्य गौरैया ?पक्षी के बारे में लोगों में जागरूकता बढ़ाना और उसके संरक्षण…

# दिल की कलम से #

Originally posted on Retiredकलम:
कभी कभी हम इंसान कुछ ऐसी घटनाएँ और कुछ ?विकट परिस्थिति से गुज़रते है कि उसे सोच कर मन हमेशा ?ही सहमा सहमा सा और परेशान रहता है । ? लेकिन अगर यही चिंता लम्बे वक़्त…

# ख़ुदकुशी या मर्डर# -2

Originally posted on Retiredकलम:
उस दर्जी दोस्त के मन में अब भी बहुत सारे प्रश्न उभर रहे थे | क्या स्वयं की जान ले लेना इतना ?आसान है ? आखिर राजेश अपने आप को मारने के लिए कैसे तैयार किया…

ख़ुदकुशी या मर्डर -(1)

Originally posted on Retiredकलम:
दोस्तों, कोरोना से लड़ते हुए हमारा यह दूसरा साल बीत रहा है | सच पूछा जाये तो हमारे यह दो साल कोरोना की भेंट चढ़ गई है | हम में से शायद ही ऐसा कोई शख्स…

# मेरी अच्छी दोस्त #

Originally posted on Retiredकलम:
अब मैं ने तय किया है कि आत्मा को स्वच्छ रखना है | हमारे अन्दर जो वर्षों से गन्दगी? जमी हुई है उसे हटाना है, क्योंकि आत्मा में परमात्मा का अंश रहता है । कभी –…

# चाय पर चर्चा #

Originally posted on Retiredकलम:
कभी कभी ज़िन्दगी ?ऐसे मोड़ पर लाकर खड़ी कर देती है जब अपने पास समय भी होता है, पैसे भी होते है , पर साथ बैठ कर चाय पिने वाला कोई नहीं होता है | आज…

# चुपके – चुपके #

Originally posted on Retiredकलम:
प्यार एक एहसास है । जो दिमाग से नहीं दिल से होता है?| प्यार में ?अनेक भावनाओं और विचारो का समावेश होता है !, प्रेम हमें ?स्नेह से लेकर खुशी की ओर धीरे – धीरे अग्रसर…