kavita

आशा के तुम दीप जलाओ

कभी – कभी हमारे जीवन में कुछ ऐसी घटनाएँ घट जाती है जिसके कारण मन उदास हो जाता है और हम गुमसुम रहने लगते है | हालांकि उदासी, किसी बड़े दुख के अनुभव का एक छोटा सा हिस्सा मात्र होता है । ये… Read More ›

# अकेलापन अजनबी नहीं है #  

अकेलापन एक ऐसी भावना है जिसमें लोग एक  खालीपन और एकान्त का अनुभव करते हैं। इससे पीड़ित व्यक्ति अपने को  खाली, अवांछित और महत्वहीन महसूस करता है | उसे लोगों से मजबूत पारस्परिक संबंध बनाने में कठिनाई होती है, क्योंकि अकेलापन… Read More ›

# खेद नहीं है मुझे #

हम इंसान अपने ज़िंदगी में किसी किसी बात पर पछतावा करते रहते है |  जब  हमें अनुकूल मुकाम हासिल नहीं होता तो हमे  पछतावा होने लगता है | हमें एक अच्छी नौकरी मिल रही थी लेकिन  हमें अपने माता पिता… Read More ›

# ज़िन्दगी को जीना है #

यह सच है यारों , ज़िन्दगी बहुत कीमती है और बहुत खुबसूरत भी है | हमें अपनी ज़िन्दगी से प्यार करना चाहिए | अगर बुरा वक़्त है तो थोडा सब्र करना होगा क्योंकि हर काली रात के बाद खुबसूरत सवेरा… Read More ›

# दिल तो मेरा बच्चा है #

सचमुच दिल तो नादान होता है, बच्चा होता है | वह तो बस अपने सपनों का पीछा करता रहता है | उसे यकीन होता है कि एक न एक दिन वह उसे पा लेगा | उसे खुद पर भरोसा है… Read More ›

# मन के मंदिर मे #

एक प्रचलित कहावत है — “दिल तो बेचारा आवारा  है,  दिल का क्या कसूर ?” सही बात है । दिल अपने फितरत को लेकर आवारा है। आवारागर्दी करना ही दिल का काम है, और शायद इसीलिए, दिल सदा के लिए… Read More ›

# यादों के लम्हे #

आज मुझे माँ का वह दुलार याद आता है, जब माँ कहती थी बाहर जा पर दूर मत जाना | पापा का स्कूल से लेकर आना और छोडना, और  उनका “बाबू “” कहना  याद आता  है । अब बहुत कुछ… Read More ›

# भावनाओं के भँवर में #

हमारी भावनाएं हमारे जीवन का एक अविभाज्य अंग हैं | भावनाओं के बिना जीवन कैसा ?  हमारी भावनाएँ ही हैं, जो विपरीत परिस्थितियों में भी हमें  खुश रख सकती है | हमें स्वयं के साथ – साथ  सभी की भावनाओं… Read More ›

# आशिक बना रखा है #

लोग कहते थे, वो बड़ा सौभाग्यशाली है, वो जो चाहता था, उसने पा लिया है |  कम से कम बेचारा भ्रम में तो रहा | परिस्थितियों के साथ एक दिन उसका भ्रम भी टूट गया |प्रेम में  कोई सफल नहीं… Read More ›

#कभी कभी मेरे दिल मे #

हमारा मन प्रेम की सुंदर भावनाओं को महसूस करता है | प्रेम एक ऐसा जाल होता है जिसे  हम स्वयं कड़ी मेहनत करके बुनते है | लेकिन कभी कभी परिस्थितियाँ विपरीत भी हो जाती है, तब मन बेचैन हो जाता… Read More ›