Retired कलम

Latest Posts

मेरे अन्दर का र्द्वंद

कर लबों पे हँसी काबिज़ …दिलों में दर्द रखते हैं,, जिन्हें मौत नहीं आती…अक्सर हर रोज़ मरते हैं …  मुझे पता है कि मेरा एक मात्र युद्ध सिर्फ खुद से है, और यह मेरे लिए बहुत महत्व रखता है क्योकि मैं काफी लम्बे समय से लड़ रहा हूँ | लेकिन अब मुझे एहसास हो रहाContinue reading “मेरे अन्दर का र्द्वंद”

चिंता नहीं ..चिंतन करें..

आज के दौड़ में हमारे लिए एक सीमा से अधिक तनाव (stress) लेना नुकसानदायक साबित हो सकता है, जिसका असर ना केवल हमारे स्वास्थ  पर पड़ता है बल्कि हमारे सगे – सम्बंधियों  पर भी पड़ता है | पर  राहत की बात यह है कि यदि हम थोड़ी सावधानी बरते, तो हम अपने स्ट्रेस (stress) कोContinue reading “चिंता नहीं ..चिंतन करें..”

सकारात्मक विचार – 10

मेहनत और आलस ज़मीन में डाले बीज की तरह है, लेकिन दोनों में फर्क सिर्फ इतना कि मिहनत का बीज आपकी ज़िन्दगी को  कामयाबी के मीठे फलों से भर देता है और आलस्य का बीज आपके  ज़िन्दगी को दुर्भाग्य के कांटो से भर देता है | तब तक मिहनत करते रहो, जब तक कि आपContinue reading “सकारात्मक विचार – 10”

मेरी अच्छी माँ

दोस्तों, यह कहानी  है एक माँ की , लेकिन उससे पहले मैं दो बातें कहना चाहता हूँ , वैसे तो बहुत ही छोटा सा शब्द है ‘माँ’… पर इस शब्द  के मायने बड़े है …इसमें… स्नेह हैं,  ममता है  …भावनाये है और शक्ति भी निहित है। ईश्वर की सबसे शानदार और खुबसूरत  रचना है माँ.Continue reading “मेरी अच्छी माँ”

Music Therapy

Since the earliest days of humankind, the power of music, has been evident to us. Music therapy is the process in which music is used to address the physical, emotional, cognitive, and social needs of a group or individual.   It employs a variety of activities, such as listening to melodies, playing an instrument, andContinue reading “Music Therapy”

किस्मत की लकीरें – 13

तुम्हारे प्यार की दास्तान हमने अपने दिल में लिखी है न थोड़ी न बहुत , बे-हिसाब लिखी है किया करो हमें भी अपनी दुआओं में शामिल हमने अपनी हर एक सांस तुम्हारे नाम लिखी है .. वह पत्रकार अचानक कालिंदी  के सामने दीवार बन कर खड़ा हो गया,  जिसके कारण सारी की सारी गोलियां उसकेContinue reading “किस्मत की लकीरें – 13”

किस्मत की लकीरें – 12

कौन कहता है कि इंसान किस्मत खुद लिखता है अगर यह सच है तो किस्मत में दर्द कौन लिखता है .. कालिंदी  ऑफिस में पहुँच कर बड़े साहब का अभिवादन किया | कालिंदी को देखते ही बड़े  साहब अपने कुर्सी से उठ कर उसके पास आये और उसे उसकी पदोन्नति पर बधाई दी | तुम्हारीContinue reading “किस्मत की लकीरें – 12”

किस्मत की लकीरें – 11

अपने हौसले को यह मत बताओ कि तुम्हारी परेशानी कितनी बड़ी है, अपनी परेशानी को यह बताओ कि तुम्हारा हौसला कितना बड़ा है .. उन पाँच खतरनाक अपराधियों के मारे जाने की खबर चारो  तरह आग की तरह फ़ैल गयी | खबर पाकर आम  जनता और  व्यापारी वर्ग  में  ख़ुशी की लहर दौड़ गयी |Continue reading “किस्मत की लकीरें – 11”

प्रेम का इज़हार

चुपके से भेजा था मेरे मेहबूब ने मुझे एक गुलाब कमबख्त उसकी खुशबू ने सारे शहर में हंगामा कर दिया . वेलेंटाइन डे के अवसर पर कल हमने एक ब्लॉग पोस्ट लिया था | और आप सबों ने ढेर सारा स्नेह और प्यार दिया | लेकिन असली वेलेंटाइन का मतलब वह एक छोटी सी कहानीContinue reading “प्रेम का इज़हार”

मैं और मेरा वैलेंटाइन

दुनिया की फ़िक्र, दीन की बातें, खुदा की याद .. सब कुछ भुला दिया तेरे दो दिन के प्यार ने … कल शाम में जब इवनिंग वाक से  घर वापस आया तो मेरी नन्ही सी पोती (Granddaughter)  मेरे पास आकर बोली… दादा जी, कल वैलेंटाइन डे है | आप मुझे क्या गिफ्ट देंगे | मैंनेContinue reading “मैं और मेरा वैलेंटाइन”

किस्मत की लकीरें – 10

मंगलू के इतिहास और काले कारनामो की  लिस्ट लम्बी थी | कालिंदी बड़े ध्यान से उसके फाइल का अध्ययन कर रही थी तभी उस के  मोबाइल की घंटी बजी | कालिंदी ने जैसे ही फ़ोन उठाया तो उधर से आवाज़  आया… हेल्लो मैडम, आप ने तो आज फिर कमाल कर दिखाया | यह उसी अनजानContinue reading “किस्मत की लकीरें – 10”

Loading…

Something went wrong. Please refresh the page and/or try again.

About the Blogger

Vijay Kumar Verma

“तेज़ धड़कते दिल से..कांपते हाथों से..” a bit anxious and nervous, I started the journey of writing blogs.

I am Vijay Kumar Verma, residing in  Kolkata, the city of joy. I was a Banker since December 1985 and retired in April 2017 from State Bank of India. After serving the Bank for 32 years as an officer holding different assignments from time to time, now I am currently enjoying the retired life. I would like to fulfil the duty of social service through this platform spreading aware about the health related problems and their remedies. I will also try to entertain my followers through knowledgeable information and motivate them to enjoy better and quality lifestyle. It is my endeavour to keep the post friendly and as informative as I can.

I am willing to connect with my friends and followers, through my stories and drawings out of my passion to write and make sketches.

I would like to create a trusted and joyful friend circle, and share tales from the past.


Follow My Blog

Get new content delivered directly to your inbox.

Join 633 other followers

Contact us on :

19 thoughts on “Retired कलम

    1. हहाहाह …मज़ा तो तभी है /आगे guess करते रहो और कहानी पढ़ते रहो…thank you dear ..

      Like

        1. Thank you very much ..Hope you are enjoying my stories.
          please read my articles in other categories also and comments,
          your words keep me going…stay connected And be happy…..

          Like

  1. Sir I read ur Sunday blog Found it very interesting.You have a strong feeling for your fellow retirees .You still remember ur friends of old days.You have also retrieved your old habits of painting and in a very short time came at par with the regular painter’s.Your paintings that I saw today are superb.Your writing flair both in hindi and English have also improved much.It is not because of lockdown.It was already deeply embedded in you .You have simply retrieved them from the junk box to desk top.You have very successfully reinvented urself in the lockdown.Remain so sir when the lockdown is over.I too will join u.Thsnks for mentioning mr in your blog.Rrgardd Mohd Kamran

    Liked by 1 person

    1. thank you dear…Life is beautiful because of friends like you , every single word of yours inspires me and give me new motivation and energy ..
      stay connected and stay happy…

      Like

  2. All your posts are very topical, relevant and interesting to read. You have a great flair for writing and you should continue writing whatever you like. You can also paint sketches and compose poetry reasonably well. More power to your creative skills.

    Like

  3. Thank you sir, your words really give the energy to do the things with best efforts .. I am really enjoying the writing and drawing and find the lovely friend circle..
    Stay connected and stay happy..

    Like

    1. Thank you dear, It is the fact that Happiness doubles when children praise their parents..
      I am so happy to hear your words ..It is essential for an old man to feel young mentally..

      Like

  4. All the posts are very good and full of facts .
    Keep your hobbies live. I wish you on
    auspicious day of diwali.May Maa Kali bless you and fuĺlfil your every dream to true.

    Liked by 1 person

    1. Thank you dear ..I am glad to hear that you are enjoying my blogs. It is always
      encouraging to hear that my blog keeps my friends happy and motivated..
      The lights glowing on Diwali inspire us to shine in our true spirit..

      Like

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: