Recent Posts - page 2

  • # चिंता नहीं ..चिंतन करें #

    Originally posted on Retiredकलम:
    आज के दौड़ में हमारे लिए एक सीमा से अधिक तनाव (stress) लेना नुकसानदायक साबित हो सकता है, जिसका असर ना केवल हमारे स्वास्थ ?पर पड़ता है बल्कि हमारे सगे – सम्बंधियों ?पर भी पड़ता है…

  • # मेरी अच्छी माँ #

    Originally posted on Retiredकलम:
    दोस्तों, यह कहानी  है एक माँ की , लेकिन उससे पहले मैं दो बातें कहना चाहता हूँ | वैसे तो बहुत ही छोटा सा शब्द है ‘माँ’… पर इस शब्द ?के मायने बड़े है …इसमें… स्नेह…

  • एक कोशिश और

    इंसान सिर्फ जीवन के एक पहलू को देखता है और महत्व देता है | इंसान सिर्फ सुख चाहता  है लेकिन दुःख के लिए तैयार नही रहता है |  जीवन रुपी सिक्के के दुःख और सुख दो पहलू है | अगर… Read More ›

  • हर ब्लॉग कुछ कहता है…8

    Originally posted on Retiredकलम:
    ?ज़िन्दगी की परिभाषा मैं आज मोर्निंग वाक के लिए जब पार्क में पहुँचा तो मैंने पाया कि मेरी मित्र मण्डली पहले से ही वहाँ मेरा इंतज़ार कर रही है ?| वे सब मुझे देखते ही बोल…

  • # रोज हँसे , खुल कर हँसे , खूब हँसे #

    Originally posted on Retiredकलम:
    दोस्तों हँसने से तन मन में उत्साह का संचार होता है और दिल से हँसना तो किसी दवा से कम नहीं | इसलिए आज जगह जगह पर हास्य क्लब बनाये जा रहे है , ताकि भाग…

  • महाभारत पर चर्चा

    दोस्तों, पिछले कई ब्लॉग में हमने “महाभारत की बातें” शीर्षक के तहत उससे  उधृत बहुत  सारी घटनाओं को प्रस्तुत कर चूका हूँ | इसका मुख्य उद्देश्य है कि हम इतिहास में हुए गलतियों से कुछ सबक ले सकें  और उनमे… Read More ›

  • #आप सभी को मेरा प्रणाम #

    Originally posted on Retiredकलम:
    आज करीब दो महीने के बाद लॉक डाउन में थोड़ी ढील ?दी गई है जिसके तहत सुबह सैर करने के लिए पार्क को भी खोल दिया गया था | और यह क्या … ? आज पहला…

  • # उम्मीद पर टिकी ज़िन्दगी #

    Originally posted on Retiredकलम:
    उम्मीद भी बड़ी कमाल की चीज़ है…लोग कहते है ना कि उम्मीद पे ही दुनिया कायम है..वर्ना हम कोरोना काल के ” लॉक डाउन ” को सिर्फ इस उम्मीद से झेल रहे है कि आगे सब?…

  • Sketching is my passion

    Friends, I think Blogging is a way to share our thoughts and try to find something interesting, something unique. The very purpose of Blogging is to present our thought and feelings in a clear, systematic and arranged manner, so that… Read More ›

  • सकारात्मक विचार -11

    Originally posted on Retiredकलम:
    जब आप सुबह उठते हैं, तो आपके पास दो विकल्प होते हैं …. सकारात्मक रहें या नकारात्मक, आशावादी रहें या निराशावादी , मैं आशावादी होना पसंद करता हूँ । ये एक द्रष्टिकोण की बात है |…