# स्वस्थ रहना ज़रूरी है #-20

कब्जियत और गैस की समस्या

दोस्तों,

आज कल हमलोग महसूस कर रहे है कि हम जो भी खाते है, उसका पाचन ठीक से नहीं हो रहा है | पेट में गैस बनना और खट्टी डकारे आना आम बात हो गयी है | शायद मौसम का असर है या हमारे खान पान का दोष |

पेट साफ़ नहीं रहने के कारण हम अपने को स्वस्थ महसूस नहीं करते है और इसके कारण  विभिन्न तरह के समस्याओँ से घिर जाते है |

कहावत है न कि  पेट सफा तो सब रोग दफा |

अच्छे स्वास्थ  के लिए ज़रूरी है कि हम जो भी खाएं उसका पाचन सही ढंग से हो | हमारे पाचन तंत्र में भोजन को पचाने में आंतो की महत्वपूर्ण भूमिका है |

पाचन तंत्र को मजबूत बनाने के लिए अपनी पेट को साफ रखना बेहद जरूरी है। इससे कब्ज़ीयत,  सुस्‍ती, कील-मुंहासों और पेट की तमाम बीमारियों से राहत मिलती है ।

हम जो भी खाना खाते हैं वह जब मलाशय से नहीं निकल पाता, तो कोलोन में ही जमा हो जाता है । यदि पेट ठीक प्रकार  से साफ नहीं होता तो हमारे  कोलोन में इंफेक्शन होने का भी खतरा हो जाता  है ।

यह वेस्‍ट मटीरियल यदि लंबे समय तक पेट में पड़ा रहे तो यह सड़ेगा  और टॉक्‍सिक हो सकता है | यह  हमारी  हेल्‍थ को नुकसान पहुंचा सकता है । इसलिए इन टॉक्‍सिक पदार्थों को बाहर निकालना बहुत जरूरी है।

 कई लोगों को पेट साफ न होने की वजह से चेहरे पर मुंहासे आदि हो जाते हैं, तो कभी कभी पाइल्स की भी शिकायत हो जाती है |

आज हम यहाँ  कुछ घरेलू उपाय की चर्चा करना चाहते है , जिसको अपना कर हम अपने  पाचन सिस्‍टम को ठीक रख सकते है |

कोलोन की सफाई

  • पाचन तंत्र को मजबूत रखने के लिए कोलोन की सफाई करना बहुत ज़रूरी है | इससे पेट हल्का महसूस होता है |
  • वजन कम करने में मदद मिलती है ।
  • हमारे  समग्र मानसिक और शारीरिक स्वास्थ्य में सुधार होता है।
  • प्रतिरक्षा प्रणाली के कामकाज में सुधार।
  • पेट के कैंसर के जोखिम को कम करने में मदद मिलती है ।

सेब का जूस

सेब का जूस पाचन तंत्र को मंबूत रखने में सहायक है | सेब में पेक्टिन (फाइबर) होते है जो अघुलनशील और घुलनशील गुण होते हैं । यह हमारे मल को भारी बनाने में मदद करता है और जिससे पास करना आसान हो जाता  है । यह हमारे  वजन घटाने के प्रयासों में सहायता करता है। इसके अतिरिक्त, सेब, पेट के कैंसर की कोशिकाओं के विकास को भी रोकता है।

सेब का जूस बनाने के लिए 1 सेब लें और 1 कप पानी के साथ ब्‍लेंड कर लें । इसे जूस बनाकर फिर इसको पी जाएं।  इसका कुछ दिनों तक रोजाना उपयोग करने से समस्या में सुधार हो सकता है |

लेमन डिटॉक्स ड्रिंक

नींबू विटामिन सी से भरपूर होता है, जो पाचन में मदद करता है | यह शरीर से गंदगी को बाहर निकालने में भी मदद करता है। नींबू एक प्राकृतिक एंटीऑक्सिडेंट है, जो हमारे  शरीर को फ्री रैडिकल्‍स से बचाता है।
एक अध्ययन के अनुसार, लेमन डिटॉक्स डाइट भी शरीर में वसा को कम कर सकता है। इसे लेने के लिए 1 गिलास गुनगुने पानी में, 1|2 नींबू और 1-2 चम्मच शहद मिलाएं। इसे रोज सुबह खाली पेट में पीना चाहिए ।

दही का उपयोग

दही एक प्राकृतिक प्रोबायोटिक है, जो आंत के हेल्‍दी बैक्‍टीरिया का ख्‍याल रखता है। इससे पाचन की समस्‍या दुरुस्‍त होती है।

दही का दैनिक सेवन हमारे  शरीर में प्रोबायोटिक्स के स्तर को बनाए रखने में मदद करता है, जो बदले में, आंत को शुद्ध करने में मदद  करता  है । प्रतिदिन 1 से 2 बार बिना चीनी या फल के सादा दही लेना चाहिए ।

कच्ची सब्जी का जूस

कच्ची सब्जियों से निकाला गया जूस हमारे कोलन को साफ करने में बहुत कारगर है | इसके सेवन से हमारे  शरीर को डिटॉक्स करने में काफी मदद मिलती है । इसके साथ ही  यह हमारे शरीर के वजन  को भी बैलेंस करने में मदद करता है।

दिन में कई बार आपको अपनी डाइट में पालक, चुकंदर, गाजर, टमाटर और ककड़ी का रस पीना चाहिए।

हाँ, इसका जूस घर में ही निकाले, क्योंकि फ्रेश जूस  में पोषक तत्वों और खनिजों की गुणवत्ता सुरक्षित रहती है ।

सेब का सिरका

एप्पल साइडर विनेगर में एंटीऑक्सिडेंट और एंटीबायोटिक गुण होते हैं, जो आंत और मलाशय के लिए फायदेमंद हो सकते हैं।

एप्‍पल साइडर विनेगर में एसिटोबैक्टर नामक बैक्टीरिया की उपस्थिति होती है, जो पाचन में सहायता करता है और हमारे  पेट के लिए उचित कार्य करता है। यह पेट में एसिड नहीं बनने देता और वजन कम करने में मदद करता है।

इसके आलावा कुछ ज़रूरी नियमों का पालन करना चाहिए ..

  • जितना हो तरल पदार्थों का सेवन बढ़ाएं । तंबाकू के सेवन से बचें । शराब का सेवन कम करें।
  • सूर्योदय के पहले उठना अनिवार्य है और उठने के बाद हाथ जोड़कर अपने अपने माँ – बाप और भगवान को याद करना चाहिए !
  • सुबह उठ कर एक से दो गिलास गुन-गुना पानी बासी मुँह से पीना चाहिए | यह  पेट में बचे हुए अवशेष भोजन को भली भांति बाहर निकालने के लिए एक राम बाण घरेलु नुस्खा है !
  • सुबह में नियमित रूप से मोर्निंग वाक करना चाहिए | कम से कम तीन किलोमीटर पैदल चलना चाहिए,  क्योंकि  पैदल चलने से शारीरिक व्यायाम होता है और पूरे शरीर में रक्त का सही संचालन होता है!
  • स्नान ध्यान के बाद सुबह का नास्ता समय पर करना चहिये और नास्ता में रोटी, सब्जी और सलाद का होना बहुत ही जरूरी है और सुबह का नास्ता हल्का फुल्का होना अनिवार्य है !
  • यह भी ज़रूरी है कि सुबह का नास्ता,  दोपहर का भोजन एवं रात का खाना खाने के एक घंटा पहले और बाद में एक गिलास सादा पानी पीना जीवन का नियम होना चाहिए ! इससे कब्जियत कभी नहीं होती है और पाचन क्रिया भी सुचारू रूप से होता है |
  • फलों में अमरुद और पपीता कब्ज़ के उपचार में बेहद फायदेमंद है | इनका सेवन किसी भी समय किया जा सकता है | इनके खाने से पेट की समस्या तो समाप्त होती ही है, त्वचा में भी निखार आ जाता है |
  • जब भी प्यास लगे पानी पीना अनिवार्य है | लघु शंका और दीर्घ शंका को किसी भी हालत में रोक कर नहीं रखना चाहिए |!
  • दोपहर का भोजन मनपसंद का होना अनिवार्य है और भोजन में दाल, चावल, सब्जी, रोटी, चटनी  होना चाहिए | भोजन में दही भी खाएं तो अति उत्तम है |
  • रात का भोजन सुपाच्य होना चाहिए  और भोजन के बाद कम से कम एक घंटा चहल कदमी करने से  अच्छी नींद आती है, और पाचन भी सही रहता है  |
  • समय पर बिस्तर पर जाना चाहिए | ज्यादा रात तक जागना नहीं चाहिए | सोने से एक घंटा पहले अपने मोबाइल  को बंद कर दें |
  • 50 वर्ष की आयु के बाद, नियमित हेल्‍थ चेकअप करवाते रहना चाहिए, खासतौर पर कोलोन कैंसर से बचने के लिए ।
  • मानसिक तनाव से दूर रहना चाहिए | मानसिक तनाव होने पर कुछ ऐसे एंजाइम का स्राव होता है जो पाचन क्रिया को बाधित करता है |
     
  • फाइबर, अनाज, साबुत अनाज, चोकर, दलिया, फल, और सब्जियों से भरपूर खाद्य पदार्थों का सेवन करना चाहिए । यह मल त्याग को बढ़ाने और पेट के स्वास्थ्य को ठीक रखने में मदद कर सकता है।

    (नोट – कोई भी उपाय अपनाने से पहले डॉक्टर्स की सलाह ज़रूर लें..) (Pic source: google.com)

उम्मीद है स्वास्थ सम्बन्धी यह ब्लॉग आपको पसन्द आएगा, कृपया टिपण्णी ज़रूर करें |

पहले की ब्लॉग  हेतु  नीचे link पर click करे..

BE HAPPY….BE ACTIVE….BE FOCUSED….BE ALIVE…

If you enjoyed this post, please like, follow, share, and comments

Please follow the blog on social media … visit my website to click below.

        www.retiredkalam.com



Categories: health

13 replies

  1. अच्छी एवं उपयोगी जानकारी।

    Liked by 1 person

  2. सुंदर और उपयोगी जानकारी के लिए धन्यवाद। 🙏🙏

    Liked by 1 person

  3. स्वस्थ रहने के लिए सही सुझाव।

    Liked by 1 person

  4. Good presentation about us to remain healthy. Good effort in collection of facts and figures.

    Liked by 1 person

  5. We should clean And healthy food🍲

    Liked by 1 person

  6. बहुत ही सुंदर blog

    Liked by 1 person

  7. Reblogged this on Retiredकलम and commented:

    Patience with family is love, Patience with others is respect.
    Patience with self is confidence & Patience with God is faith,
    Be happy…Be healthy …Be alive ..

    Like

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: