# सकारात्मक विचार # ..1

स्वस्थ मन – स्वस्थ तन

हर कोई अपने ज़िदगी में कामयाब होना चाहता है, खुश रहना चाहता है लेकिन कुछ ही लोग ऐसा कर पाते है | सवाल है कि ऐसा क्यों ? वह कौन सा फार्मूला है जो हमें हमारी मंजिल के करीब ले जा सकती है |

मेरा मानना है कि सफल जीवन, सुखी जीवन के लिए सकारात्मक विचार का होना बहुत आवश्यक है | इसलिए मेरी कोशिश है कि अपने दिन को आनंदित बनाने के लिए सुबह- सुबह सकारात्मक विचारों से अवगत कराया जाये..उसी की कड़ी में एक प्रयास …

 

  • व्यक्तित्व निर्माण का प्रश्न प्रत्येक आदमी के वास्ते व्यक्तिगत सवाल है। इसका किसी दूसरे आदमी से कोई संबंध नहीं है।
  • दूसरा कोई भी आदमी आपके मन तथा व्यक्तित्व को बलवान एवं दृढ़ नहीं बना सकता।
  • कोई भी व्यक्ति आपको दुर्बल से शक्ति – संपन्न, असफल से सफल और ‘कुछ नहीं’ से ‘सब कुछ’ नहीं बना सकता।
  • आप स्वयं ही ‘सब कुछ’ बन सकते हैं और आप में वह सब करने की शक्ति, सामर्थ्य मौजूद है।”
  • …मुश्किल वक्त हमारे लिये आईनें की तरह होता है, जो हमारी क्षमताओं का सही आभास हमें कराता है ।
  • ..- हमें सिर्फ अपनी संघर्ष (Struggle) करने की क्षमता बढ़ानी है, सफलता (Success) का मिलना तो तय है ।
  • … जिस काम में सफल होने की संभावना ज्यादा हो उसको करने पर हम सफल होते है, लेकिन जिस काम में असफलता की संभावना ज्यादा हो उसको करने पर हम श्रेष्ठ होते है ।
  • आपका का आने वाला कल कैसा होगा यह इस बात पर निर्भर करता है कि आप आज अपने बारे में क्या सोचते है ।
  • .. जीवन को दिशा देने के लिए PURPOSE का होना उतना ही ज़रुरी है जितना शरीर के लिए ऑक्सीजन का ।
  • आप सामान्य रूप से अगर जोखिम लेने के लिए तैयार नहीं हैं तो, साधारण बनकर जीने के लिए तैयार रहें।
  • सफलता का कोई राज़ नहीं है। यह तैयारी, कठिन परिश्रम और किसी असफल व्यक्ति से सीखने का परिणाम है।
  • … अगर आप वास्तव में कुछ करना चाहते हैं, तो आप एक रास्ता ढूंढ लेंगे। अगर नहीं, तो आप बहाने ढूंढेगे।
  • … यदि आप सफलता चाहते हैं तो इसे अपना लक्ष्य ना बनाइये, सिर्फ वो करिए जो करना आपको अच्छा लगता है और जिसमे आपको विश्वास है, और खुद-बखुद आपको सफलता मिलेगी।
  • … अधिकतर महान लोगों ने अपनी सबसे बड़ी सफलता अपनी सबसे बड़ी विफलता के एक कदम आगे हांसिल की है।
  • ….कोहरे से एक अच्छी बात सिखने  को  मिली है …जब जीवन में कोई रास्ता ना दिखाई दे रहा हो तो बहुत दूर तक देखने की कोशिश व्यर्थ है | धीरे धीरे एक एक कदम चलते चले जाओ , रास्ता खुलता जायेगा |

मन ही मन को जानता …मन की मन से प्रीत,

मन ही मनमानी करे…..मन ही मन का मीत

मन झूमे मन बाबरा …मन की अद्भुत रीत

मन के हारे हार है ……मन के जीते जीत …

इससे पहले की ब्लॉग  हेतु नीचे link पर click करे..

हर ब्लॉग कुछ कहता है –5

BE HAPPY….BE ACTIVE….BE FOCUSED….BE ALIVE…

If you enjoyed this post, please like, follow, share and comments

Please follow the blog on social media …link are on contact us page..

www.retiredkalam.com



Categories: motivational

9 replies

  1. Very good tips to achieve success.

    Liked by 1 person

  2. प्रेरणादायक सुंदर रचना 👏👏👌🏼

    Like

  3. बहुत बहुत धन्यवाद ,
    आज के परेशान और तनाव भरी ज़िन्दगी में सकारात्मक सोच रखने
    का एक प्रयास…

    Liked by 1 person

  4. Very positive thoughts and motivational blog to make a better life.

    Liked by 1 person

  5. Reblogged this on Retiredकलम and commented:

    मौत के डर से ही सही , ज़िन्दगी को फुर्सत तो मिली ..
    सडकों को राहत और घरों को रौनक तो मिली
    कुदरत तेरा रूठना भी ज़रूरी था
    इंसान का घमंड टूटना भी ज़रूरी था
    हर कोई खुद को यहाँ खुदा समझ बैठा था
    ये शक दूर भी होना ज़रूरी था …

    Like

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: