# आइये लाफ्टर डे मनाएं #

दोस्तों ,

हम हर साल मई माह के प्रथम रविवार को world laughter day मनाते है |

यह एक ऐसा दिन है , जब हम खुल कर हँसने की कोशिश करते है और कुछ समय के लिए तनाव मुक्त हो जाते है |

हर कोई जानता है कि हँसना बहुत ज़रूरी है | इस से हमारे अन्दर अच्छी  फीलिंग आती है |, यह एक ऐसा थेरेपी  है जिसको थोडा समय निकाल कर दोस्तों या अपनों के बीच  खुल कर हँसने  का अभ्यास करते है | सच,  इसके फायदे असंख्य है |

यह कोई रोग तो ठीक नहीं करता है लेकिन उसे ठीक करने में मदद ज़रूर करता है  | हँसने से हमारे शरीर में इम्युनिटी बढ़ता है जिससे रोग से लड़ने में मदद मिलती है ।

विश्व हँसी दिवस एक वार्षिक कार्यक्रम है जो दुनिया भर में हँसी और इसके विभिन्न  लाभों के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए मनाया जाता है,| साथ ही साथ दुनिया भर में लगभग हज़ारों सामुदायिक समूह हैं जो नियमित रूप से लाफ्टर का अभ्यास करते हैं और इस थारापी को करने के लिए सभी को प्रेरित करते है |

आज की  परिस्थिति में इसका महत्व  और भी बढ़ जाता है | क्योकि कोरोना महामारी की वजह से आज दुनिया में डर और उदासी का माहौल है | हम हँसना और मुस्कुराना भूल गए है |

 लेकिन फिर भी इस मुश्किल वक्त में भी सभी के दिलों में एक उम्मीद है कि आने वाला कल जरूर खुशियां लेकर आएगा ।

इसी उम्मीद को कायम रखने के लिए आज सबसे ज्यादा जरूरत है हंसने और मुस्काराने की, जिससे कि हमारे अंदर पॉजिटिविटी आने के साथ हमारी इम्युनिटी भी बढ़ सके ।  

दोस्तों ,

यह सच है कि आज की तनाव भरी जिंदगी में हँसना  हमारे लिए संजीवनी का काम करता है | हँसी को सबसे बढ़िया दवा माना गया है फिर भी हम जिंदगी की आपाधापी में हँसना  भूल गए है |

दो मिनट की स्माइल से खिची गयी फोटो आपके चेहरे को खुबसूरत बना देती है …चार चांद लगा देती है | जरा सोचिए कि हमेशा खुश और मुस्कुराते रहें तो हमारा जीवन कितना खूबसूरत हो सकता है |

आइये अब कुछ हंसने के फायदे के बारे में चर्चा करे…


इम्युनिटी बूस्ट  होती है

हंसने से शरीर में अधिक मेलेटोनिन का उत्पादन होता है, जो दिमाग द्वारा रिलीज एक हार्मोन है। इससे हमें अच्छी नींद में मदद मिलती है और हम तनाव मुक्त महसूस करते है | इतना ही नहीं,  डिप्रेशन से जूझ रहे लोगों के लिए तो यह रामबाण है। खुलकर हँसना डिप्रेशन कम कर  इम्युनिटी सिस्टम को बूस्ट करता है। 


इंटरनल एक्सरसाइज 

जब हम हँसते है तो हमारे शरीर में एंडोर्फिन हार्मोन्स का भी निर्माण होता है |  यह एंडोर्फिन प्राकृतिक दर्द निवारक है, जो शारीरिक दर्द के समय सक्रिय होता है। इसकी जरूरत इसलिए होती है ताकि हम दर्द से बाहर निकल सके। इसके लिए सबसे पहला काम जो जरूरी है वो ये है कि खूब हँसे |, आप दर्द में कमी महसूस कर पाएंगे |

खुल कर   हंसना एक वर्कआउट है। इससे आंतरिक कसरत होती है। खुलकर हंसने से डायाफ्राम, पेट, श्वसन प्रणाली और कंधों का अभ्यास होता है और हँसने  के बाद मांसपेशियां अधिक रिलैक्स्ड हो जाती हैं।

शुगर कंट्रोल

शुगर  के मरोजों के लिए किसी हँसना किसी दवाई से कम से कम नहीं है । हंसने से रक्त वाहनियों में रक्त का प्रवाह बढ़ता है । इससे दिल का दौरा या दिल से जुड़ी बीमारियों से बचा जा सकता है । रोजाना खुलकर हंसने से डायबिटीज कंट्रोल करने में भी मदद मिलती है।

एंटी एजिंग के लिए हँसे

हँसने  से आपकी स्किन की अच्छी-खासी एक्सरसाइज हो जाती है इसलिए हंसना सेहत के लिए बहुत जरूरी है। ऐसा कहा जाता है कि मुस्कुराने और हंसने से चेहरे की 15 मांसपेशियां एक साथ काम करती हैं ।
शरीर की मांसपेशियों और अंगों के आसपास ऑक्सीजन का प्रवाह बढ़ जाता है, इससे अधिक ऊर्जा मिलती है। चेहरे की ओर रक्त का प्रवाह भी बढ़ जाता है जिससे झुर्रियाँ समाप्त हो जाती है और  व्यक्ति युवा दिखता है।

दर्द में राहत 

कई शोधों में यह पाया गया है कि स्पोंडलाइटिस या कमर के दर्द जैसे असहनीय दर्द से  छुटकारा पाने  के लिए हँसना  एक प्रभावी विकल्प है। डॉक्टर लाफिंग थेरेपी की मदद से इन रोगों में रोगियों को आराम पहुंचाने का प्रयास करते हैं। इतना ही नहीं, 10 मिनट तक ठहाके लगाने से आपको दो घंटे तक दर्द से राहत मिल सकती है और नींद आ सकती है । 

हम सभी जानते है कि हँसने  से अपने अन्दर व्याप्त गुस्सा और मानसिक तनाव से रहत मिलती है | जर्मन वैज्ञानिकों द्वारा की गई रिसर्च से यह बात सामने आया है कि मनुष्य को गुस्सा निकालना भी जरूरी होता है , क्योंकि गुस्सा नहीं निकला तो इससे कई जानलेवा बीमारी का खतरा होता  है |

उनके अनुसार गुस्से को मन में दबा कर रखना या मन ही मन घुटने वाले लोगों में स्ट्रेस हॉरमोन “कॉर्टिसोल” का स्तर बढ़ जाता है | इससे हार्ट अटैक, कैंसर,  हाई ब्लड प्रेशर जैसी बीमारियों का खतरा  करीब 37 प्रतिशत तक बढ़ सकता हैं |

 इसलिए अपने गुस्से को अपने अन्दर रहने ना दें  और कोशिश करें की किसी भी तरह निकाल जाए | गुस्सा निकलने के लिए बहुत सारे उपाय है, जिसकी चर्चा करना लाज़मी है :

अपनी भावना शेयर करें..

अगर किसी व्यक्ति से नाराज हैं या उनके सामने अपना गुस्सा व्यक्त नहीं कर सकते है  … तो ऐसी स्थिति में आप किसी मित्र या साथी से उस बात  को शेयर करें |  इससे आप तनाव में कमी पायेंगें |

अपनी बात स्पष्ट कहें..

अगर किसी व्यक्ति की बात बुरी लगे तो उसे स्पष्ट  कह  दें कि मैं आपकी अमुक बात से नाराज हूं | अपनी बात तर्कपूर्ण तरीके से रखें और अच्छे शब्दों का प्रयोग करें |

नोट लिखे..

अगर आपके अन्दर किसी बात को लेकर तनाव रहता है तो अपनी dairy , या किसी पेपर पर लिख कर नाराजगी का इजहार करें | इससे भी मन शांत हो जाता है |

हँसने  से तनाव कम होता है …..

तनाव , दर्द, और झगडे आदि को समाप्त करने की शक्ति हँसी से ज्यादा किसी और उपाय में  नहीं || आपके दिमाग को कण्ट्रोल करने का काम जो हँसी कर सकती है वह दूसरी कोई दवा नहीं कर सकती  है |

हँसी ख़ुशी और मीठे बोल बोलने वाला आदमी  समाज में लोकप्रिय होते है  और उनके ज्यादा मित्र होते है | उन्हें तनाव और चिंता जैसी समस्या नहीं सताती है |

सकारात्मक ऊर्जा :

हंसी मजाक से आप अपने दिल और दिमाग के बोझ को कम करते हैं | खुश रहने से आपके अन्दर  सकारात्मक उर्जा  का संचार होता है | आप कोई मधुर गाना सुन कर भी relax महसूस कर सकते है |

हँसने  से दिल स्वस्थ रहता है :

ऐसा देखा गया कि हँसने से दिल तक जाने वाली धमनियों में खून का प्रवाह सुचारू रूप से होता है जिससे ह्रदय सम्बन्धी बहुत सारी  समस्याओं से दूर रह सकते  है

झूठी  हंसी भी बड़े काम की चीज़ है  :

कभी कभी लाफ्टर एक्सरसाइज में हम  झूठी हँसी  भी हँसते है | लेकिन यह भी हमारी  सेहत के लिए काफी फायदेमंद है | कई शोधों से साबित हुआ है कि नकली हँसी भी तनाव कम करती है और आप  रिलैक्स महसूस करते  है | 

साथ ही हँसने  से शरीर में pleasure हार्मोन का स्राव होता है जिससे व्यक्ति का मूड ठीक रहता है |

 फिटनेस भी बरक़रार :

जब हम हँसते और खुश रहते है तो हम स्वस्थ महसूस करते है | जो लोग खुल कर जीते है वो  बुढ़ापे में भी तेज़  गति से चलते है और ज्यादा एक्टिव रहते है |

ये बुजुर्ग लोगों सुबह बिस्तर से उठने में, कपड़े पहनने में या नहाने में कोई दिक्कत  या आलास महसूस नहीं करते है |

दोस्तों, हँसने के फायदे तो हमने देख लिया तो क्यों ना हम हर दिन लाफ्टर  डे के रूप में मनाएं और अपनी व्यस्त दिनचर्या में थोडा समय निकाल कर खुद तो खूब हँसे ही, साथ साथ औरों  को भी हँसाए …..

एक कहानी सुनो हेतु नीचे link पर click करे..

https://wp.me/pbyD2R-2s7

BE HAPPY….BE ACTIVE….BE FOCUSED….BE ALIVE…

If you enjoyed this post, please like, follow, share and comments

Please follow the blog on social media …link are on contact us page..

www.retiredkalam.com



Categories: motivational

10 replies

  1. Good tips for health

    Liked by 1 person

  2. बहुत ही अच्छा ज्ञान

    Liked by 1 person

  3. Reblogged this on Retiredकलम and commented:

    मैं अपना ज़िक्र सरेआम नहीं करता ,
    मैं तो एक रिटायर्ड बैंकर हूँ यारों
    लिखने के सिवा और कोई काम नहीं करता ….

    Like

Leave a Reply to Anupama Shukla Cancel reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: