Uncategorized

# एक अधूरी प्रेम कहानी #…5

Originally posted on Retiredकलम:
होश के साहिल पे मुझको अब ना आने दीजिये, आज तो बस मस्तियों में ..डूब जाने दीजिये ?| आप को भी है खबर ?ये क्या नशीला दौर है, आज का ये खुशनुमा ..माहौल ही कुछ और…

# एक अधूरी प्रेम कहानी #…2

Originally posted on Retiredकलम:
source:Google.com एक प्रवासी का दर्द मैं  धारावी से मुंबई स्टेशन पर पहुँचा तो गाँव के कुछ और साथी  पहले से ही  इंतज़ार कर रहे थे | हम सभी मुँह पर मास्क लगाए थे और हिदायत दी…

# एक अधूरी प्रेम कहानी #…1

Originally posted on Retiredकलम:
Source:Google.com धारावी मुंबई शहर का जाना माना और एशिया का सबसे बड़ा स्लम बस्ती / जिसमे करीब १० लाख लोग चाल / खोली में रहते है / रघु बिस्तर पर लेटा ?सोच रहा था कि आज…

ज़िन्दगी तेरी अज़ब कहानी-…11

Originally posted on Retiredकलम:
दो दिनों की यात्रा कर अंजना? वापस अपने शहर लौट चुकी थी | आज सुबह – सुबह जब अपने ऑफिस पहुँची तो उसे आश्चर्य का ठिकाना नहीं रहा, ?जब उसने ?देखा कि? निर्मला पहले से ही…

ज़िन्दगी तेरी अज़ब कहानी-…10

Originally posted on Retiredकलम:
निर्मला, आज तीन सालों के बाद अंजना को देख रही थी | वह कोर्ट परिसर में भी अपने लोगों से घिरी थी और सभी को कुछ ना कुछ काम समझा रही थी | यहाँ तक कि…

ज़िन्दगी तेरी अज़ब कहानी-…9

Originally posted on Retiredकलम:
अंजना को कोर्ट परिसर से जाते हुए उसके चाचा-चाची देख रहे थे | उनलोगों को गुस्सा आ रहा था कि अंजना के? कारण उनलोगों को कोर्ट का चक्कर लगाना पड़? रहा है और साथ ही साथ…

ज़िन्दगी तेरी अज़ब कहानी-…8

Originally posted on Retiredकलम:
अंजना हैरान – परेशान उस नन्हे से बच्चे को लेकर पास के शहर में स्थित एक ?अनाथालय में पहुँची | उसे अस्त व्यस्त हालत में देख कर वहाँ की ?संचालिका ने समझा कि वह कुवांरी ?माँ…

ज़िन्दगी तेरी अज़ब कहानी …7

Originally posted on Retiredकलम:
समय व्यतीत होते देर नहीं लगती है और देखते देखते वह समय भी आ गया , जब बारात घर पर आ गई | अंजना अपने सारे दुःख को भूल कर अपनी छोटी बहन निर्मला की शादी…

ज़िन्दगी तेरी अज़ब कहानी …6

Originally posted on Retiredकलम:
अंजना कॉफ़ी – हाउस से वापस अपने घर आ गई और अपने चाची को दिए हुए वचन के अनुसार विजय को अपनी छोटी बहन निर्मला से शादी करने के लिए राज़ी भी कर लिया | लेकिन…

ज़िन्दगी तेरी अजब कहानी —5

Originally posted on Retiredकलम:
अंजना सामने दीवार पर टंगे भगवान् की फोटो को सुनी निगाहों से देख रही थी.. मानो वह भगवान् से कह रही .हो ……मैं जानती हूँ प्रभु ..मेरा जीवन कष्टों से भरा है | मैं बहुत ही…