Uncategorized

# मेरा ही अक्स है #

Originally posted on Retiredकलम:
कभी – कभी ऐसा महसूस होता है कि ?बाहर चारों तरफ खुशियाँ है पर मेरे अंदर नहीं | मेरा मन हमेशा किसी न किसी बात से आहत ?होता रहता है | ऐसा क्यों होता है, पता…

# कुछ अपने बारे में #

Originally posted on Retiredकलम:
अब मैं अपनी क्या तारीफ करूं, मुझे तो अलफ़ाज़ ही नहीं मिलते है | लेकिन मेरे दोस्त हमेशा कहते है कि मैं अपने बारे में भी लिखूँ ?| अतः अपने दोस्तों के निर्देश का पालन करते…

एक ऐसा मर्डर मिस्ट्री -2  

Originally posted on Retiredकलम:
यह सही है कि मर्डर का कोई पुख्ता सुराग अब तक नहीं मिल पाया था । लेकिन वारदात के समय नैंसी की गाड़ी वहाँ थी तो पुलिस को संदेह होना लाज़मी था | उन्होने नैन्सी से…

एक ऐसा मर्डर मिस्ट्री -1    

Originally posted on Retiredकलम:
??? आज कल यह देखा गया है कि बहुत सारे ऐसे क्राइम होते है जिसका क्राइम करने का तरीका? फिल्मों, कहानियों या सोशल? मीडिया पर बताई गई जानकारी से प्रेरित होता है | मेरे मन में…

# मैं और मेरा शौक #

Originally posted on Retiredकलम:
दोस्तों, आज मेरे ब्लॉगिंग का तीसरा वर्षगांठ है | क्योंकि आज के ही दिन मेरे दिमाग में यह आइडिया आया था कि मैं एक ब्लॉग की शुरुआत ?करूँ | मेरे दूसरे? ब्लॉगर ?दोस्त को देख कर…