# तीन बार की फांसी #– 2

Good afternoon friends,
Confidence is the best accessory. Never leave home without it.
It may not bring success but it gives the power ti face challenges.

Retiredकलम

उस जमाने में सज़ा हो जाने के बाद अपने केस को डिफ़ेंड करने का नियम नहीं था, इसलिए कोर्ट के फैसले के 18 दिनों के बाद जॉन ली को 23 फ़रवरी 1885 को फांसी की तारीख तय की गई |

इसी बीच एक चौंकाने वाली खबर का पता चला | जॉन ली की बहन हैरिस जो कुंवारी और कम उम्र की थी, वह गर्भवती है | उन दिनों इंग्लैंड में सख्त नियम था कि बिना शादी शुदा अगर कोई गर्भवती हो जाती है तो उसे बहुत बड़ा पाप और गुनाह माना जाता था | इस विषय में वहाँ का समाज बहुत सख्त था |

अब सवाल उठता है कि हैरिस अगर गर्भवती है और किसके कारण गर्भवती हुई है और फिर इस केस से क्या ताल्लुक है ?

आगे तहक़ीक़ात करने पर पता चला कि जो वकील जॉन ली का केस लड़ रहा था, उसका हैरिस के साथ नाजायज रिश्ता…

View original post 1,408 more words



Categories: Uncategorized

6 replies

  1. I think life can’t all be based upon outcome 🙂

    Liked by 1 person

Leave a Reply to dolphinwrite Cancel reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: