# टीचर्स डे मनाते है #

दोस्तों ,
शिक्षक और छात्र का संबंध आज के दौर में काफी बदल गया है | पहले जहां शिक्षकों को आदर और सम्मान की भावना से देखा जाता था, आज के दौर में शिक्षक मार्गदर्शक के साथ-साथ छात्रों के दोस्त भी हैं. |
शिक्षक दिवस देश में हर साल भारत के भूतपूर्व राष्ट्रपति डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन के जन्म दिवस (पांच सितंबर) के अवसर पर मनाया जा रहा है | वह एक महान शिक्षक थे| इस शिक्षक दिवस पर आप सबों को शिक्षक दिवस की शुभकामनाएं ….

Retiredकलम

शिक्षकों के सम्मान में, डॉ. एस. राधाकृष्णन ने ठीक ही कहा था,– ‘मेरा जन्मदिन मनाने के बजाय, यह मेरे लिए गर्व की बात होगी कि 5 सितंबर को शिक्षक दिवस के रूप में मनाया जाए।

आज टीचर्स day है और इस अवसर पर मैं अपने प्रगति में गुरु के योगदान को स्मरण करना चाहता हूँ , उनको कृतज्ञता अर्पित करना चाहता हूँ …

चलो आज “टीचर्स डे” को याद करते है

कुछ अपनी और कुछ आपकी बात करते हैं..

आपको तो मैं अपना आदर्श मानता हूँ

आपकी अच्छाइयों की नकल करता हूँ

बहुत दिनों बाद आपसे मुलाकात हुई

भूले बिसरे यादों पर बहुत सारी बात हुई

रात हुई, बातों की शुरुआत हुई

नयनों से रिमझिम बरसात हुई

मैंने कुछ आपके गीले शिकवे सुनें

अपनी भी कुछ विवशता आप से कहें

बातों का सिलसिला खत्म ना हुआ,

रात कैसे बीती और कब सवेरा हुआ

आंखे बोझल थी, पर मन हल्का हुआ..

View original post 85 more words



Categories: Uncategorized

17 replies

    • गुरु तेरे उपकार का,

      कैसे चुकाऊं मैं मोल,

      लाख कीमती धन भला,

      गुरु हैं मेरे अनमोल.

      शिक्षक दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं

      Like

  1. You’ve shared your link on my WDYS posts. Unfortunately I cannot read Hindi or this script.

    Liked by 1 person

  2. Padke acha laga!!
    Sir ab apko apni awaj me record karna chahiye

    Liked by 1 person

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: