जीवन एक संघर्ष है -1

Do what you can, with what you have, where you are….
” ―Theodore Roosevelt.

Retiredकलम

एक लेडी इंस्पेक्टर अचानक हाथ में डंडा घुमाते हुए कुंबला (kumbla) रेलवे पर एक चाट की स्टॉल पर धावा बोलती है | वहाँ उस स्टॉल पर एक औरत चाट- पापड़ी बना रही थी | अचानक उसके पास जाकर वो लेडी इंस्पेक्टर डंडा दिखाते हुए उससे कहती है – You are under arrest । आस पास खड़े लोग उत्सुकता से उस ओर देखने लगते है | पता नहीं क्या लफड़ा है ?

तभी चाट बनाते हुए उस औरत ने इंस्पेक्टर से पूछा – मेरा ज़ुल्म तो बताओ ? इतना कह वे दोनों ठहाका मार कर हंसने लगे |

लोगों को कुछ समझ में नहीं आ रहा था कि वो लेडी  इंस्पेक्टर पहले तो उस चाट बनाने वाली औरत को गिरफ्तार करने की  बात कहती है और फिर दोनों एक दूसरे को देख कर ठहाका लगाने लगते है, जैसे उन लोगों की  वर्षों की  जान पहचान हो |

हाँ, यह सच है…

View original post 1,131 more words



Categories: Uncategorized

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: