# हँसते और हँसाते रहिए #

Both Optimistic and Pessimistic contribute to society,
The Optimistic invent the Aeroplane, and the pessimist the parachute.

Retiredकलम

  • हमें क्यों हँसना ज़रूरी है ? वर्ल्ड लाफ्टर रिपोर्ट 2022 के अनुसार 146 देशों की सूची में भारत का स्थान 136वां है। इसलिए हमें ज्यादा हंसने की जरूरत है।

  • हंसने से सांसें तेज, दिल की धड़कनें तेज, खून का बहाव तेज और हम mentally भी ज्यादा ऐक्टिव होते हैं। एक बार हंसने के दौरान अमूमन 10 से 12 मांसपेशियां शामिल होती हैं।

  • हंसी की छोटी डोज़ हो या बड़ी, सेहत के लिए फायदेमंद है। लोग आपस की बातचीत में अमूमन हंसी का सहारा लेते हैं। हंसना-मुस्कुराना सभी के लिए जरूरी है।

  • हम जन्म के 3 महीने के बाद से ही हंसना शुरू कर देते हैं। हंसने की क्रिया में हमारा चेहरा, छाती, फेफड़े, दिल जैसे अंग शामिल होते हैं।

  • हंसी लोगों से जुड़ने का एक बेहतरीन जरिया है। रोमन साम्राज्य में ‘हिलेरिया’ फेस्टिवल मनाने की शुरुआत हुई थी। हंसना-हंसाना ही इस दिन का मकसद था।

  • हंसने से शरीर में एंडॉर्फिन…

View original post 362 more words



Categories: Uncategorized

13 replies

  1. A very interesting and true statement. Wonderful, we need all types in society. Cheers and a great day to you. All the best.

    Liked by 1 person

  2. Is tarah k blog ache lagte he.
    Mood badal dete he.
    Keep sharing

    Liked by 1 person

    • सही कहा आपने | कभी कभी इस तरह के ब्लॉग मन को हल्का कर देते है |
      और नई रचना के लिए जोश आ जाता है |

      Liked by 1 person

  3. Great point about the airplane and the parachute!

    Liked by 1 person

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: