# उम्र के इस पड़ाव में #

Once I loved Sunday very much and I enjoyed it.
Now, I really don’t know why Sunday is going very boring.
Let me know if you can.

Retiredकलम

दोस्तों,

मेरी उम्र 65 की हो चली है,लेकिन मैं आज भी इंटेंस वर्कआउट करता हूँ|जी हाँ,मैं रोज शाम में एक घंटा जिम में पसीने बहाता हूँ | मैं अपने फ़िटनेस पर बहुत ध्यान रखता हूँ,खास कर कोरोना काल से इसकी अहमियत और भी बढ़ गई है |

यह सही है कि थोड़ी देर की देख भाल से आप अपने को बिलकुल फिट रख सकते है | मुझे जिमिंग करना बहुत पसंद है,खास कर वेट लिफ्टिंग और ट्रेड मिल पर दौड़ना मेरा पसंदीदा कसरत है|

मैं इससे जुड़े ब्लॉग और फोटो भी पोस्ट करता रहता हूँ | मैं यह समझता हूँ कि इससे हमारे ऑनलाइन दोस्त भीmotivateहोंगे और वो भी अपने स्वास्थ्य पर ध्यान रखेंगे |

मैंने अपनी दिनचर्या कुछ इस तरह से बना रखी है कि फिटनेस के साथ – साथ कुछ पुराने शौक को भी मैं जीवित रख सकूँ और नए शौक की शुरुआत कर सकूँ |

स्वस्थ और…

View original post 700 more words



Categories: Uncategorized

7 replies

  1. If I have something interesting for me in my to do list then I definitely look forward even to Sunday. For example, today I want to work on one of my painting and I am so excited. Bhai main Hindi nahi parh sakti, sorry. Sirf title parha hay.

    Liked by 2 people

  2. Active people get bored often
    And Sunday hits the list😊

    Liked by 1 person

  3. Ha ha ha ..
    It might be right.

    Like

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: