चलो दोस्त आज मुसकुराते है

Never wait for perfect moment.
Just take a moment and make it perfect.

Retiredकलम

लोग कहते है कि हमारा व्यक्तित्व वैसा ही होता है जैसी हमारी भावनाहोती है | ये भावनाही है जो हमारा बात – व्यवहार निश्चित करती है | सच तो यह है कि भावनाओं के बिना ज़िंदगी ही अधूरी है | इसलिए हमको अपनी भावना पर विशेष ध्यान रखना होता है |

हमारे जीवनमें घटने वाली प्रत्येक घटना के पीछे हमारी भावना ही होती है जो हमसे मनचाहे निर्णय करवाती है और फिर उसके ही अनुरूप परिणाम भी प्राप्त होते हैं।

अपनी भावनाओंको शब्दों की माला में पिरोने का प्रयास हैमेरी यह कविता , मुझे आशा है आप इसे पसंद करेंगे …

चलो दोस्तों आज फ़िर से मुस्कराते हैं

गमे ज़िंदगी को फिर जीना सिखाते हैं

हमारे लबों को हंसने की ज़रूरत हैं,

चलो दोस्तों आज फिर सेमुस्कराते हैं

रहता है नमी सदा हमारे आँखों में

आज उन नमी को आँखों से बहाते हैं

छोटे – छोटे आनंद के पल क्यों…

View original post 184 more words



Categories: Uncategorized

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: