बाबा नागार्जुन : एक कवि, एक विचार

When we fail to understand the Lessons at right time,
Life makes us understand the same Lesson at a wrong time.

Retiredकलम

दोस्तों.

सात दिन पूर्व ही 22 मार्च को हम लोगों ने बिहार दिवस मनाया था |

सन 1912 में उस दिन बंगाल प्रेसीडेंसी से अलग कर बिहार राज्य का गठन किया गया था | और तब भारत के नक्शे में बिहार का उदय हुआ | उसके बाद बिहार का पुनः 1935 में विभाजन हुआ और उड़ीसा राज्य बना |

बिहार का दूसरा विभाजन 15 नवम्बर 2000 में हुआ और झारखंड राज्य का निर्माण हुआ | इस तरह बिहार के टुकड़े होकर तीन अलग राज्य का गठन हुआ | यह सच है कि भारत का इतिहास बिहार से ही शुरू होता है |

मैं बिहारी हूँ और बिहार पर मुझे गर्व है और हो भी क्यों नहीं | बिहार में ऐसी बहुत सारी विभूतियों ने जनम लिया जिनके बारे में जान कर हर बिहारी अपने को गौरवान्वित महसूस करता है |

मैंने ब्लॉग के माध्यम से बिहार पर एक शृंखला शुरू…

View original post 1,816 more words



Categories: Uncategorized

2 replies

  1. कवि नागार्जुन के बारे में बेहतरीन जानकारी देने के लिए धन्यवाद। ✌️😊

    Liked by 1 person

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: