# यह कैसा प्रेम है ? -2

Good evening friends..

Retiredकलम

सामने खड़ी लड़की को देख कर पुलिस को तो एकबारगी विश्वास ही नहीं हुआ | क्योंकि उसने उस लड़की का अंतिम संस्कार अपने सामने ही कराया था | लेकिन यह भी सच्चाई थी कि सामने खड़ी लड़की मंजुला ही थी |

पुलिस आगे कुछ उससे पूछताछ करती, इससे पहले एक दूसरा चेहरा कमरे के अंदर से प्रकट हुआ और वो था खुद अशरफ |

पुलिस के दिमाग में एक साथ बहुत सारे सवाल आने लगे | लेकिन अपनी सूझ बुझ दिखाते हुए , पुलिस ने फौरन दोनों को दबोचा और अपने साथ गाड़ी में बिठा लिया | उन्होंने रास्ते भर उन लोगों से पूछताछ की और फिर उन दोनों को अपने साथ पुलिस स्टेशन, खगौल लेकर आई |

थोड़ी देर बाद, अशरफ को वहीं पुलिस स्टेशन में रोक लिया गया और मंजुला को पुलिस वाले उसके घर तक छोड़ आए | मंजुला गुमसुम अपने घर के दरवाजे पर पहुँची |

View original post 1,498 more words



Categories: Uncategorized

2 replies

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: