#मेरी विदेश यात्रा ..4

दुनिया मे कोई भी चीज़ कितनी भी कीमती क्यों न हो ,
परंतु, नींद, शांति, और आनंद से बढ़ कर कुछ भी नहीं |

Retiredकलम

चौथा दिन

कल का सिंगापुर भ्रमणं बहुत ही मजेदार था लेकिन हमलोग इतना थक चुके थे कि घोडा बेच कर सुबह तक सोते रहे | हालाँकि आज सिंगापुर में हमारा अंतिम दिन था और हमलोगों के बहुत सारे destination देखने बाकी रह गए थे |

अचानक फ़ोन की घंटी बज उठी और लगातार बजे जा रही थी | हमने हडबडा कर घडी की ओर देखा तो दिन के नौ बज चुके थे और हमलोग अभी तक सो रहे थे | उधर से फ़ोन पर टूर गाइड था जो कह रहा था कि 9.00 बजे प्रस्थान करना है, लेकिन हमलोग तो अब तक सो रहे थे |

होटल का रेस्तरां

आधा घंटा का मोहलत लेकर हम सभी जल्दी – जल्दी तैयार होकर ब्रेकफास्ट के लिए होटल के रेस्तरां में आ गए | हमें ज़ल्दी प्रस्थान करना था इसलिए थोड़े समय में ही ब्रेकफास्ट लेना था | लेकिन इतने तरह के व्यंजन…

View original post 1,180 more words



Categories: Uncategorized

2 replies

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: