# सफ़र लोकल ट्रेन का #

Everything is temporary,…thoughts, emotion, people, and scenery..
Do not become attached, just flow with it…
Stay happy… Stay blessed.

Retiredकलम

हेलो फ्रेंड्स,

मुझे कोलकाता में रहते हुए करीब 15 साल हो चुके है और यहाँ की बहुत सारी यादें मुझसे जुडी हुई है | कुछ ऐसी घटनाये भी यादों में बसी है कि उसे याद करते ही चेहरे पर बरबस मुस्कराहट आ जाती है | आज के वर्तमान समय में जब हम सभी तनाव भरी ज़िन्दगी जी रहे है | ऐसे समय में वो पुरानी घटनाओं को याद कर थोडा खुश हो लेता हूँ |

आज भी एक ऐसे ही संस्मरण का ज़िक्र यहाँ कर रहा हूँ, मुझे आशा है कि आप सभी के चेहरे पर भी मुस्कराहट ज़रूर बिखर जाएगी |

बात उन दिनों की है, जब हमारी पोस्टिंग एन एस रोड, कोलकाता में थी | मैं कोलकाता के बांसद्रोणी इलाका में रहता था | ऑफिस आने जाने का सबसे सुविधा जनक साधन मेट्रो रेल ही था | लेकिन उसमे भी रोज़ रोज़ धक्का – मुक्की करते हुए भीड़…

View original post 1,548 more words



Categories: Uncategorized

2 replies

  1. I believe, once something is done or said, it echoes in eternity. All we say and do is part of our life’s book.

    Liked by 1 person

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: