# मन का डर #

A peaceful mind can think better than an exhausted mind.
Allow a few minutes of silence to the mind every day and
see how it shapes your life.
Stay blessed …Stay happy..

Retiredकलम

दोस्तों ,

हम सभी जानते है कि हिरण के दौड़ने की गति 90 km प्रति घंटा है और बाघ की गति सिर्फ 60 km प्रति घंटा है,, फिर भी बाघ हिरण का शिकार कर लेता है |

क्योकि हिरण के मन में एक डर होता है कि हम बाघ से कमजोर है और वही डर के कारण वह भागते हुए बार बार पीछे देखने पर मजबूर हो जाता है |

यह बात उसकी गति और मनोबल को कम करता है जिसके कारण वह उस बाघ का शिकार बन जाता है |

यही हाल आज कोरोना का है | कोरोना से लड़ने के लिए कई गुना रोग प्रतिरोधक शक्ति है हमारे पास | लेकिन हमारा मनोबल और इम्युनिटी केवल कोरोना के भय के कारण कम हो जाता है और हम बीमार हो जाते है |

इसी सिलसिले में एक कहानी याद आ गयी जिसे यहाँ प्रस्तुत करना चाहता हूँ |
एक…

View original post 510 more words



Categories: Uncategorized

4 replies

  1. बहुत सुंदर रचना है सर ।

    Liked by 1 person

  2. Wonderful post. And wondering drawing too.

    Liked by 1 person

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: