हर ब्लॉग कुछ कहता है –4

Don’t depend too much on anyone in this world ,
because even your own shadow leaves you …
when you are in darkness… Stay happy…Stay blessed…

Retiredकलम

फेसबुक वाली फ्रेंड

रिटायरमेंट के पहले दैनिक जीवन में बहुत सारे मित्र हुआ करते थे, चाहे वे सहकर्मी हो या और दुसरे लोग | दोस्तों का एक समूह होता है, जो हमारे जीवन में टॉनिक का काम करता है | चाहे जब भी मन उदास हो बस दोस्तों के पास चले जाने से या मोबाइल पर उनसे बात कर लेने से ही मन ठीक हो जाता है |

लोग ठीक ही कहते है दोस्तों की महफ़िल में हर बीमारी का इलाज है | दोस्त दवा देकर इलाज़ नहीं करते है बल्कि उनके अलफ़ाज़ ही दवा का काम करते है |

लेकिन रिटायरमेंट के बाद बहुत सारे परिवर्तन होते है हरेक की ज़िन्दगी में | वो दोस्तों का समूह छुट जाता है और उनसे मिलना – जुलना शायद ही हो पाता है |

मैं भी रिटायरमेंट के बाद ऐसे ही दौर से गुज़र चूका हूँ | ऐसी अवस्था में दोस्तों और…

View original post 810 more words



Categories: Uncategorized

8 replies

  1. Very nice

    Like

  2. ओह सारा पैसा किसी ने ले लिया ऐसा भी होता w

    Liked by 1 person

  3. ओह ये तो बहुत बुरा हुआ

    Liked by 1 person

Leave a Reply to vermavkv Cancel reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: