# महाभारत से शिक्षा #

यदि सफलता एक सुन्दर पुष्प है तो विनम्रता उसकी सुगंध …
आपको अच्छे दिन की मंगल कामनाओं के साथ
प्रातः कालीन वंदन एवं अभिनन्दन |

Retiredकलम

महाभारत में एक सीख जो हमें मिलती है , वह यह कि स्वयं पर यकीन करना ज़रूरी है | अगर हम खुद पर, अपनी क्षमताओं पर, अपने निर्णयों और योग्यताओं पर यकीन नहीं करेंगे, तो जीवन में सफल नहीं हो पाएंगे |

महाभारत की शिक्षा आज के समय में भी प्रासंगिक है | उसमे घटी घटनाओं से शिक्षा लेकर वर्तमान में अपने ज़िन्दगी को हम सफल बना सकते है और ज़िन्दगी में आने वाली कठिनाइयों से हम लड़ सकते है |

महाभारत से हमें क्या क्या शिक्षा मिलती है, आइये उस पर आज हम चर्चा करते है |

सकुनी के द्वारा फेके हुए पासों ने पांडव को धुत्त क्रीडा में हरा दिया | उसके बाद उन्हें 12 साल का वनवास और एक साल का अज्ञातवास के लिए जाना पड़ा |

शर्त यह थी कि अज्ञातवास के दौरान पांडवों में से कोई भी पहचान लिए जायेंगे तो फिर उन्हें 12 साल…

View original post 885 more words



Categories: Uncategorized

4 replies

  1. बिल्कुल सही है

    Liked by 1 person

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: