ये कैसी मोहब्बत ? ( 1 )

 

वैसे हम सब बचपन से कहानियाँ सुन कर बड़े हुए है | बचपन में सुनी  कुछ कहानियाँ आज भी याद है क्योंकि वो कहानी हमारे मन पर एक गहरी छाप छोड़ चुकी है |

आज भी मैंने एक कहानी पढ़ी थी, जिसे पढ़ कर मन में अनेक तरह के विचार उठने लगे और हम सोचने लगे कि हम कैसी समाज की रचना करने जा रहे है | आज के दौड़ में परिवार की परिभाषा ही बदलती जा रही है |

आज के इस दौर में , लड़की – लड़की के प्रति आकर्षित हो जाती है, उसी तरह लड़का – लड़का के प्रति आकर्षित हो जाता है और इस हद तक कि उसी के साथ शादी कर साथ रहने का ख्वाब देखने लगता है | हालाँकि अभी  हमारे समाज में  इसे मान्यता नहीं दी जाती है , लेकिन सवाल है कि हमारा सोच किधर जा रहा है | प्रेम की परिभाषा को हमें फिर से समझने की ज़रुरत है |

आज एक ऐसी ही कहानी जिसे हम सभी को सोचने पर मजबूर कर देगा कि क्या यह सही है ?  और अगर गलत है तो क्यों  ?

लोग कहते है कि प्यार अँधा होता है और प्रेम में पागल आदमी इस कदर अँधा हो जाता है  कि वह हर तरह के हथकंडे अपनाने को तैयार हो जाता है |

यह तो हम सभी जानते है कि आज सोशल मीडिया का दौर है और सब कुछ बहुत तेज़ी से बदल रहा है | इस सोशल मीडिया के द्वारा हमने जुर्म की दुनिया की अजीब – अजीब कहानियाँ सुनी है | ..आज की कहानी भी कुछ अजीब  ही है |

कभी- कभी सुनने को मिलता है कि दो लड़कियों को आपस में प्यार हो गया तो कभी सुनने को मिलता है कि दो लड़कों को आपस में प्यार हो गया | हालाँकि  यह खबरे सुन कर अब कोई ज्यादा हैरानी नहीं होती है  क्योंकि आज बहुत देशों के साथ भारत में भी तो इसे कानूनी मान्यता दे दी गई है |

फेस बुक और व्हाट्स अप  सोशल मीडिया का ऐसा प्लेटफार्म है, जहाँ ऐसा लगता है कि हमारी दुनिया आकर यही सिमट गयी है |

आज सोशल मीडिया के माध्यम से बहुत तरह के किस्से सुनने को मिलते रहते है | खास कर जो लोग आज कल अकेलापन महसूस करते है , उनके लिए तो यह एक पूरी दुनिया ही है | फेस बुक और व्हाट्स अप पर तो समय का पता ही नहीं चलता है |

आज जिधर भी देखे सभी के हांथो में एक मोबाइल अवश्य रहता है | आज हम खाने के बिना कुछ समय रह सकते है लेकिन शायद मोबाइल के बिना नहीं |

एक लड़का जिसकी उम्र 22 वर्ष, नाम जय कुमार और वह मुंबई में रहता है | और दूसरा एक दिल्ली का लड़का शान्तु  जिसकी उम्र करीब 24 वर्ष है | वे दोनों फेस बुक पर एक दुसरे को फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजते है और दोनों फ्रेंड बन जाते है | 

फिर आपस में चैटिंग शुरू हो जाती है | कुछ ही दिनों के बाद उनके बातों का  सिलसिला  लम्बा चलने लगता है | बहुत ज़ल्द ही वे मानसिक रूप से एक दुसरे के करीब आ जाते है |

बातचीत अब एक अजीब मोड़ पर पहुँच जाती है | दोनों लड़के आपस में अब प्यार मुहब्बत की बातें  करने लगते है , जैसे एक लड़का और एक लड़की किया करते है |

आखिरकार एक दिन जय अपनी मन की बात शान्तु को ज़ाहिर कर देता है |  इस तरह वे दोनों अपने प्रेम का इज़हार भी कर देते है | जय ने अपने प्यार का इज़हार करते हुए ज़िन्दगी साथ बिताने की इच्छा प्रकट  करता  है | शान्तु भी अपनी भावना का इज़हार करते हुए कहता है कि वह अब जय के बिना रह नहीं सकता है इसलिए वो भी उससे शादी करने को तैयार है |

जय एक व्यवसायी का बेटा था, उसके पिता काफी पैसे वाले थे | जय खुद भी पढ़ा लिखा था लेकिन बेरोजगार था | उसे बिज़नस करना पसंद नहीं थी इसलिए नौकरी की तलाश कर रहा था | तो दूसरी तरफ शान्तु भी अपने को बिज़नस मैन का बेटा बताता  है और कहता है कि वह खुद भी बिज़नस करता है , अच्छी पैसे कमा  लेता है |

जय को विश्वास हो जाता है कि वे  आज के समाज के खिलाफ जाकर भी शादी कर सकते है | उसने  ऐसी बहुत सी बातें सोशल मीडिया के द्वारा  पता किया था |

तभी उसने कही पढ़ा कि टेनिस का  एक पुरुष खिलाडी ने ऑपरेशन के द्वारा लड़का से लड़की बन गया है | उसे भी यह आईडिया पसंद आया क्योंकि उसके बहुत सारी बातें लड़कियों जैसी थी | काफी  छानबीन करने पर उसे  पता चला कि उसका भी  लिंग परिवर्तन हो  सकता है | उसने फ़ौरन इस मामले में शान्तु को भी अपनी आईडिया से अवगत कराया |

शान्तु तो उसके हर बात में राज़ी हो जाता था इसलिए इस बात पर भी राजी हो गया | और इधर जय तो उसके प्यार में इस कदर पागल हो गया था कि उसके साथ जीवन बिताने के लिए कुछ भी करने को तैयार था |

लेकिन यह सब बात जय के घर वालों को पता चल गया  | वे मुंबई के अच्छे और इज्जतदार बिज़नस मैन थे और इस तरह की बात वो सोच भी नहीं सकते थे | इसलिए उन्होंने अपने बेटे को साफ़ साफ़ कहा , इन सब बातों को सोचना छोड़ कर या तो कोई नौकरी ज्वाइन करे और नहीं हो घर का जो बिज़नस है, उसी में मन लगा कर काम करे |

लेकिन जय को शान्तु की सहमती मिलने पर उसने घर वालों के बातों पर ध्यान नहीं दिया |

 गुप्त रूप से उसने अपना ऑपरेशन करवा कर अपना सेक्स परिवर्तन कर  लिया और अपना नाम जय से बदल कर जया रख लिया | इन सब करतूतों की खबर उसके माँ बाप को लग गयी | उन्होंने साफ़ साफ़ शब्दों में जय को कहा – अब मैं तुझे अपने घर में नहीं रख सकता , क्योंकि हमारे समाज और विरादरी में बहुत बदनामी हो जाएगी | जिसे हमलोग किसी भी  सूरत में बर्दास्त नहीं कर पायेंगे |

लेकिन जय के ऊपर अब भी इन बातों का  कोई असर नहीं हुआ , उसे पूरा यकीन था कि वह अपना  जीवन शान्तु के साथ सुख पूर्वक बिता सकता है | वह अपना लुक बदल लेता है और लड़की वाली अपनी तस्वीर शान्तु के साथ शेयर करता है |

इस तरह करीब एक साल बीत चुके थे लेकिन इस दौरान अब तक वे दोनों एक दुसरे से मिल नहीं सके थे , बस सोशल मीडिया ही मिलने का जरिया बना रहा जहाँ घंटो वे दोनों आपस में बातें किया करते | ( क्रमशः )

आगे की घटना हेतु ( भाग -2) नीचे link पर click करे..

https://wp.me/pbyD2R-4Pm

BE HAPPY….BE ACTIVE….BE FOCUSED….BE ALIVE…

If you enjoyed this post, please like, follow, share and comments

Please follow the blog on social media … visit my website to click below..

        www.retiredkalam.com



Categories: story

12 replies

  1. very cool sketches, you have a very unique stroke.

    Liked by 1 person

  2. अच्छी एवं रोचक कहानी।

    Liked by 1 person

  3. कहानी रोचक है।

    Liked by 1 person

    • बहुत बहुत धन्यवाद डिअर .
      पांच किस्तों में है यह कहानी , पढ़ कर अपनी प्रतिक्रिया ज़रूर देना /

      Like

  4. Romantic story of present day.Nice

    Liked by 1 person

  5. कहते हैं मोहब्बत के पास ही मोहब्बत होता है। कौन है जिसे मोहब्बत नहीं चाहिए, जन्म से ही मोहब्बत के आशा में लोग कितनों का आशा तोड़ देते हैं। हर एक के लिए कमेंट संभव नहीं है, सरल भाषा में कहें तो मोहब्बत की परिभाषा आपके पास ही है।

    Liked by 1 person

  6. Yes, this is a thriller story..

    Like

Trackbacks

  1. ये कैसी मोहब्बत ? ( 1 ) – Nelsapy

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: