# प्यार में कभी कभी #

आज मैंने एक ऐसी कहानी पढ़ी जिसे पढ़ कर मन में तरह तरह के सवाल पैदा होने लगे इसलिए मैं इस कहानी को आप सबों के साथ शेयर करना चाहता हूँ |

एक जवान और बेहद खुबसूरत लड़की मुंबई में रहती है | एक दिन नागपुर में वह अचानक कल्माना  पुलिस स्टेशन पहुँचती है | दिन के करीब  दो बज रहे थे | वो लड़की  पुलिस को बताती है कि कुछ  बदमाश लडकों ने मुझे  किडनैप किया और मेरे साथ गैग रेप किया है | उसने  वो जगह भी बताई, जो वहाँ से कुछ दूर पर स्थित बस स्टैंड के आस पास की जगह थी |

उस लड़की ने जब कहा कि अभी कुछ देर पहले  उन बदमाशो ने मेरा गैंग रेप किया है | पुलिस को पहले तो विश्वास ही नहीं हुआ कि दिन दहाड़े इतना चहल पहल इलाके में इस तरह की घटना कैसे घट सकती है ?

लेकिन वो लड़की खुद ही बता रही है कि उसके साथ गैंग रेप हुआ है तो शक की गुंजाईश कम ही बचती है |  पुलिस को रिपोर्ट लिखना पड़ा | लेकिन वो लड़की किसी भी बदमाश को जानती या पहचानती नहीं है | इस घटना की खबर पाते ही पुलिस महकमे में खलबली  मच गयी |

थानेदार ने इस घटना की खबर अपने सिनिअर पुलिस ऑफिसर को भी दी | पूरा पुलिस महकमा चौकन्ना हो गया , क्योंकि दिन दहाड़े नागपुर जैसे शहर में और बिलकुल भीड़ – भाड़ वाले इलाके में यह घटना घटी थी | पुलिस के लिए यह एक संगीन मामला था, इसलिए महकमे की पूरी पुलिस -फ़ोर्स जुट गयी उन बदमासों को पकड़ने के लिए |

आला ऑफिसर ने आपस में मीटिंग की और गुनाहगार को पकड़ने  हेतु एक टीम का गठन किया गया  और करीब ५०० पुलिस इस काम में लगाए गए |

पुलिस ने तहकीकात की शुरुआत करते हुए सबसे पहले जिस लोकेशन पर इस घटना को अंजाम दिया गया उसके आस पास के CCTV FOOTAGE की जांच शुरू की गयी |

दूसरी तरफ जिस लड़की का बलात्कार हुआ था उसका मेडिकल जांच के लिए भेज दिया गया | और फिर उसके मेडिकल रिपोर्ट आने का पुलिस को इंतज़ार था | लेकिन  इस बीच  तहकीकात के लिए पुलिस की टीम को चारो तरफ लगा दिया गया था |  

इसकी  जांच पड़ताल काफी जोर शोर से शुरू हुई | करीब सौ CCTV  कैमरे के फुटेज की जांच की गयी | लेकिन इससे पुलिस को कोई कामयाबी हाथ नहीं लगी |

पुराने जितने भी इस तरह के बदमाश जिनका रिकॉर्ड पुलिस के पास था , उसकी भी जांच करती रही पुलिस, फिर भी नतीजा कुछ भी नहीं निकल पा रहा था |

इस तरह दो दिन बीत गए और फिर मेडिकल रिपोर्ट भी पुलिस के पास आ गयी | मेडिकल रिपोर्ट बेहद चौकाने वाली थी |  पुलिस को एक बार तो  कुछ  समझ ही नहीं आया कि हकीकत क्या है ? मेडिकल रिपोर्ट के अनुसार उस लड़की का बलात्कार हुआ ही नहीं था |

एक तरफ वो लड़की खुद कह रही है कि उसका बलात्कार हुआ है |  चार लोगों ने उसका किडनैप किया और फिर एक जगह ले जा कर बारी – बारी से उन सबों ने  रेप किया और फिर उसे छोड़ कर वे लोग भाग गए | उसके बाद  वो लड़की सीधा पुलिस स्टेशन अपनी आपबीती सुनाने आ गयी |  और दूसरी तरफ डॉ का कहना है कि रेप हुआ ही नहीं, तो क्या डॉ की रिपोर्ट ही गलत है ? पुलिस बहुत  पेशोपेश में थी |

उन लोगों ने काफी माथा पच्ची करने के बाद इस केस पर  दुसरे संभावनाओं पर विचार करने लगे |  जिस जगह बलात्कार हुआ था उस जगह के CCTV footage को फिर से बारीकी से जांच करने का निर्णय लिया गया |

जैसा कि लड़की ने बताया था कि वह घर से एक सरकारी बस के द्वारा अपने दोस्त से मिलने यहाँ आई थी | लेकिन बस से उतरते ही कुछ बदमाश लडको ने उसे किडनैप कर लिया था | जब CCTV  की जांच किया गया तो पुलिस को उस लड़की की कुछ बाते सही लगी | कैमरे में दिखा कि लड़की बस स्टैंड में बस से उतरती है | उसके बाद वो कुछ देर बस स्टैंड के आस पास चक्कर काटती है और  काफी देर इधर उधर  घुमती है | उसके बाद  फिर दुबारा वह बस में बैठ कर फिर वहाँ से चली जाती है |

 दुसरे CCTV  फुटेज में पता चलता है कि वह बस से उतरती है और फिर वह कल्माना पुलिस थाने  की  तरफ बढती है | इसका मतलब हुआ कि  लड़की का पहले बस स्टैंड में बस से उतारना फिर बस में बैठ कर चले जाना और फिर दुबारा उसी बस स्टैंड आना और बस से उतर कर सीधे पुलिस स्टेशन आना | इस बीच  कही भी उसे किडनैप किया जाने और उसके साथ बलात्कार का होना के बीच कोई तारतम्य नज़र नहीं आ रहा था  और यही बात पुलिस को खटक रही थी |  

एक बात और पुलिस ने नोटिस किया कि वो लड़की बिलकुल normal व्यवहार कर रही है | उसके चेहरे पर वैसी शिकन और घबराहट भी नज़र नहीं आ रही थी, जैसे रेप होने के बाद लड़की के चेहरे पर एक खौफ होता है | इन सब बातों ने पुलिस को शक करने पर मजबूर कर दिया |

अब पुलिस वालों  ने उस लड़की से उसके बारे में पूरी जानकारी इकठ्ठा की |  उसके घर का  पता और माँ बाप के बारे में पूछा |  पुलिस जब जांच कि तो उसके बताये सारी जानकारी सही निकली |

तब पुलिस वाले उसके  माता पिता से मिलते है और उन्हें  सारी बात  बताते है | उसके पिता ने बताया कि उनकी बेटी ने हम लोगों को ऐसी कोई बात तो नहीं बताई और न ही  किसी से हमारी दुश्मनी है, जिस पर इस तरह का कांड करने का शक हो | हमें तो लगता है कि मेरी बेटी  बिलकुल ठीक – ठाक है |

पुलिस के जोर देने पर उसके घर वाले फिर कहते है –. हाँ, एक बात इसके साथ हो रही है और वो  यह कि ये लड़की एक लड़के से प्यार करती है और उससे शादी करना चाहती है | चूँकि वो हमारे जात – विरादरी का नहीं है इसलिए हमलोगों ने इस सम्बन्ध के लिए मना कर दिया है |  उसके कारण  वह कुछ परेशान रहती है |

यह एक नयी जानकारी पुलिस को मिली , जिससे मामला सुलझता हुआ दिखाई दिया | चूँकि रेप नहीं हुआ इसका मतलब है रेप की झूठी रिपोर्ट लिखाई गई है | हालाँकि झूठी रिपोर्ट के खिलाफ इसके ऊपर ही कार्यवाही होना तय था | इसलिए पुलिस उस लड़की को  हिरासत में ले लेती है और उससे सख्ती से पूछ ताछ शुरू करती है |

पुलिस ने पूछा — .तुम सच – सच बताओ कि तुमने इतना बड़ा झूठ क्यों बोला ?

तब वो लड़की डर के मारे अपनी सच्ची बात बताती है | उसने कहा —  वो कुछ  दिनों से बहुत परेशान है | मैं एक लड़के से प्रेम करती हूँ  और मैं उससे शादी करना चाहती हूँ | लड़का बहुत अच्छा है और वो भी मुझसे शादी करना चाहता है | लेकिन मेरे माँ बाप उससे मेरी शादी करने को तैयार नहीं है,  क्योंकि वह हमारे जाति – विरादरी का नहीं है |

लेकिन मैं उसके बिना नहीं रह सकती हूँ , इसलिए मैं तरह तरह के उपाय सोच रही थी ताकि मेरे माँ बाप इस रिश्ते के लिए राज़ी हो जाये |  तभी एक आईडिया मेरे दिमाग  में आया | यह आईडिया एक फिल्म से मिला था |  

मुझे महसूस हो रहा था कि मेरे घर वाले इस रिश्ते को किसी भी कीमत पर नहीं मानेंगे लेकिन अगर उन्हें यह पता चल जाए कि मेरा बलात्कार हो गया है | तो जैसी कि हमारी समाज की मानसिकता है कि जिस लड़की का रेप हो जाए तो कोई भी शरीफ परिवार उससे शादी करने को तैयार नहीं होता है और ऐसी स्थिति में अगर वो मेरा प्रेमी मेरे माँ बाप के सामने आकर कहे कि मैं अब भी आपकी बेटी से शादी करने को तैयार हूँ , तो मेरे घर वाले तुरंत “हाँ ” कर देंगें |

बस यही आईडिया था जिसे लेकर मैं यह जाल बुना था | मुझे विश्वास था कि मेरे माता पिता को FIR रिपोर्ट के बारे में पता चलते ही, समाज में बदनामी के डर से पुलिस की कार्यवाही रुकवा देंगे | और आनन् फानन में मेरी शादी मेरे प्रेमी से करने को राज़ी हो जायेंगे |

लेकिन भाग्य ने यहाँ लड़की का साथ नहीं दिया और दुर्भाग्य से उस लड़की पर झूठा रिपोर्ट लिखवाने के मामले में कोर्ट से सजा हो गयी |

शायद पाठक गण यह जानने को उत्सुक होंगे कि उसके बाद लड़की का हश्र क्या हुआ ?

दरअसल उसके मामले में कोर्ट ने उस पर रहम करते हुए मात्र 3 महीने के कैद की सजा सुनाई | लेकिन तीन माह की सजा काटने के बाद उसका वह प्रेमी  सामने आया और उसके माता पिता से उनकी बेटी का हाथ माँगा और वे लोग भी तैयार हो गए |

इस तरह अंततः वह लड़की अपने प्लान में सफल हो गयी और फिर उसी लड़के को पा लिया जिसके लिए इतना बड़ा षड़यंत्र रची थी …(यह एक काल्पनिक कहानी है )

कोलकाता की पहली यात्रा ब्लॉग  हेतु  नीचे link पर click करे..

https://wp.me/pbyD2R-4oK

BE HAPPY….BE ACTIVE….BE FOCUSED….BE ALIVE…

If you enjoyed this post, please like, follow, share and comments

Please follow the blog on social media … visit my website to click below..

        www.retiredkalam.com



Categories: story

7 replies

  1. रोचक कहानी।

    Liked by 1 person

  2. Kahani thik hai.Kabhi kabhi pyar me samasya hoti hai jis karanse parisisania hoti hai.

    Liked by 1 person

  3. कहानी रोचक है।

    Liked by 1 person

  4. Reblogged this on Retiredकलम and commented:

    Life is Best for those who are enjoying it.
    Difficult for those who are comparing it , and
    Worst for those who are criticizing it..
    Enjoy the beautiful Life…

    Like

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: