# मंदिर के भगवान #

Life will never provide warranties & Guarantees ,
It can only provide Possibilities & Opportunities
to convert them into success …

Retiredकलम

आज अचानक मेरे मोबाइल की घंटी बजी | मुझे फ़ोन करने वाले की आवाज अजनबी लगी और number भी अनजाना  /

मैंने तुरंत ही कहा — रौंग नम्बर और फ़ोन काट दिया | थोड़ी देर के बाद फिर उसी नंबर से दुबारा फ़ोन आया और विनती भरे लहजे में कहा कि फ़ोन ना कांटे और बताएं कि क्या आप वर्मा साहेब बोल रहे है ?

 मैं कुछ असमंजस में बोला,– जी हाँ, लेकिन आप कौन बोल रहे है ?

उन्होंने हँसते हुए कहा — ..आप ने मुझे नहीं पहचाना साहेब जी | मैं हूँ मांगी लाल माली, गाँव- कोसेलाव, राजस्थान से बोल रहा हूँ  |

कुर्सी पर बैठा मैं अचानक  जैसे अछल पड़ा | अरे , मांगी लाल, कैसे हो भई ? आज आप २५ वर्षो बाद अचानक याद किया ? और मेरा यह मोबाइल फ़ोन नम्बर मिला कैसे ?

वो थोड़ी सांस को नियंत्रित करता हुआ बोला — साहेब…

View original post 802 more words



Categories: Uncategorized

4 replies

  1. अद्भुत!!

    Liked by 1 person

  2. Kabhi Kabhi aisa bhi hota hai. Bahut sundar.

    Liked by 1 person

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: