# धुंध की दीवार # – 3

एक कसक दिल में रह गई ,
ज़िन्दगी में उनकी कमी रह गई
इतना प्यार करने के बाद भी ना मिली
शायद मेरे प्यार में ही कुछ कमी रह गई ||

Retiredकलम

मेरे ज़िन्दगी में खुशियां …. तेरे बहाने से है

आधी तुझे सताने से है…आधी तुझे मनाने से है

आज आनंद बहुत खुश था , शायद काफी दिनों के बाद वह सदमे से पूरी तरह बाहर आ चूका था और दूसरी तरफ उसको फिल्म का भी ऑफर मिल गया था |

वह ख़ुशी ख़ुशी तैयार तो हो रहा था स्टूडियो जाने के लिए, लेकिन उसे थोड़ी घबराहट भी हो रही थी क्योकि पहली बार वह कैमरे का सामना करने जा रहा था |

वह धडकते दिल से स्टूडियो की ओर चल पड़ा |

लेकिन साथ में निशा नहीं जा रही थी क्योकि आज से उसके फिल्म की भी शूटिंग शुरू हो चुकी थी, और वो शूटिंग के लिए विदेश चली गयी थी |

वहाँ स्टूडियो में सभी लोग आनंद का ही इंतज़ार कर रहे थे | आनंद के वहाँ पहुँचते ही सभी लोगों ने उसका जोरदार स्वागत किया जैसे वह कोई…

View original post 1,234 more words



Categories: Uncategorized

4 replies

  1. क्या बात है।

    Liked by 1 person

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: