# गंगा तेरा पानी अमृत #

Little things mean a lot,
Have a week filled with little miracles…
HAPPY MONDAY

Retiredकलम

कल सुबह जब मैं कल्याणी से लोकल ट्रेन से कोलकाता जा रहा था | मौसम बड़ा सुहाना था हल्की हल्की ठंडक वातावरण में थी,| ट्रेन अपनी द्रूत गति से चल रही थी और खिड़की के झरोखे से ठण्ड हवा का झोका मस्त किए जा रहा था |

तभी ट्रेन अचानक ही सिग्नल ना होने के कारण बीच में ही रुक गई और मैं अनायास ही ट्रेन की खिड़की से बाहर देखने को मजबूर हो गया |

मन में ख़ुशी का आभास हो रहा था  क्योकि चारो तरफ खेतों में सरसों के फुल की पीली  चादर बहुत ही मनोरम दृश्य दिखा रही थी |

और  पास ही एक तालाब  में बच्चे पानी से अठखेलियाँ कर रहे थे | वे बच्चे अपने दोस्तों के बीच तालाब  में नहाते हुए, मस्ती कर रहे थे और बचपन को परिभाषित कर रहे थे | उनलोगों को इस तरह खेलता देख, हमारी अपनी बचपन की याद…

View original post 349 more words



Categories: Uncategorized

2 replies

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: