# तस्वीर बनाता हूँ मैं #

Empty pockets teach us million things in life,
but full pockets spoil us in a million ways,,,

Retiredकलम

आज का ब्लॉग लिखने में कुछ ज्यादा ही मज़ा आ रहा है | वैसे प्रत्येक ब्लॉग लिखने में ख़ुशी महसूस होती है लेकिन आज कुछ अलग तरह का अनुभव कर रहा हूँ |

मैंने आज ही सुबह एक ब्लॉग पोस्ट किया था “Journey of an artist” अपने ड्राइंग एंड पेन्टिंग के साथ | थोड़ी ही देर में मेरे दोस्त कामरान का फ़ोन आया और वह आश्चर्यचकित होकर बोल रहा था ..अरे, वर्मा जी.. ,आप को बहुत बहुत मुबारक हो |

मैंने पूछा ..भाई, किस बात के लिए मुबारक ?

इतनी अच्छी पेन्टिंग बनाने के लिए . |.

आपने इतनी अच्छी पेन्टिंग बनाना कब सिखा ? पहले तो कभी इस शौक के बारे में आप से चर्चा सुना ही नहीं था |

अरे भाई यह सब लॉक डाउन का असर है …मैंने कहा |

अगर ड्राइंग-पेन्टिंग नहीं बनाता, और ब्लॉग नहीं लिखता तो मुझे घर में फालतू पड़े रहने…

View original post 1,094 more words



Categories: Uncategorized

4 replies

  1. My best compliments for the good work 😃

    Liked by 1 person

  2. But I didn’t see the post “Journey of an artist” this morning.

    Liked by 1 person

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: