# आप की खातिर #…19

Life is like a piano, the while keys are happy days
and the black keys are sad ones..
Just remember that you need both to make Music…

Retiredकलम

चलो आज मुश्किलों को हराते है .

.चलो आज दिन भर मुस्कुराते है

पिछला कहानी की अगली कड़ी ….

रोज़ की तरह आज भी सुबह उठने में देरी  हो गई और घड़ी  में देखा तो दिन के आठ बज रहे थे | लेकिन आज तो रविवार था, इत्मीनान का दिन |

इसीलिए चिंता वाली कोई बात नहीं थी | परन्तु छुट्टी के दिन पहले जो ख़ुशी का आभास होता था वैसी ख़ुशी का अनुभव आज नहीं हो रहा था |

मैं अनमने ढंग से बिस्तर छोड़ा और कपडे बदल कर “नन्हकू चाय” वाले के पास जाने की तैयारी करने लगा ..वहाँ तो चाय पर  चौकड़ी हमारा इंतज़ार  कर रहा होगा, आज छुट्टी का दिन जो है |

हम सभी बैंक स्टाफ आस पास ही रहते हैं और छुट्टी के दिन सुबह – सुबह यही मिलने का ठिकाना होता है | …

कल की ही  तो बात थी ……

View original post 1,111 more words



Categories: Uncategorized

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: