# खामोश ज़िन्दगी #

कभी-कभी खामोश होने का अर्थ स्थिति को स्वीकारना होता है परन्तु कभी यही खामोशी वेर्त्मान स्थिति को समझने के लिए भी होती है |

आज कल के परिवेश में खामोशी, मानवीय गुणों में शामिल हो चुकी है। मेरी तो ख़ामोशी के अलग ही अनुभव है .. आप भी जरा गौर  फरमाएं  |

खामोश  ज़िन्दगी

सुनो,

यूँ खामोश न रहा करो

कुछ – कुछ बात भी किया करो |

तुम्हारी  बक – बक करने  से

तुम्हारे जिंदा होने का एहसास होता है |

सुनो,

कभी कभी  लड़ाई भी किया करो..

तुम्हारी “नोक – झोक” में ……..

अपनापन” का आभास होता है |

सुनो ,

कभी कभी प्यार भी किया करो..

तुम्हारे प्यार में , 

तुम्हारे  “वो”  होने का एहसास  होता है |

सुनो ना .

यूँ खामोश न रहा करो…

अच्छा चलो..प्यार ना सही ..

शिकायत ही  कर दिया करो

मन का भड़ास निकलने से ,

दिल कुछ  हल्का होता है | ..

तुम्हारी हँसी और मुस्कुराता चेहरा

हमें  अच्छा लगता है |

रूठी हुई “खामोशियाँ” से 

बोलती “शिकायते” अच्छी होती है  | 

मैं पहले भी  कितनी  बार

टूट कर बिखर चूका हूँ ,

अगर फिर से बिखर गया तो

अब मुझे   समेटेगा  कौन ?

और अगर समेट भी लिया तो..

इन्हें जोड़ेगा कौन ?

अब तो,

कुछ दिनों का सफ़र ही शेष है..

आओ एक वादा करे..

अब दिल भी संभालेगे..

आँसूं भी संभालेगे..

और  खुद को भी . |

ये ज़िन्दगी बड़ी  ख़ास है ..

इसे आम नहीं बनाएंगे..

ज़िन्दगी  के अंतिम सफ़र को …

अब  ख़ुशी से बिताएंगे.. |

सुनो ना,

तुम खामोश न रहा करो ||…

पहले की ब्लॉग  हेतु नीचे link पर click करे..

https:||wp.me|pbyD2R-1uE

BE HAPPY….BE ACTIVE….BE FOCUSED….BE ALIVE…

If you enjoyed this post, please like, follow, share and comments

Please follow the blog on social media …link are on contact us page..

www.retiredkalam.com



Categories: kavita

23 replies

  1. बहुत अच्छा

    Liked by 3 people

  2. बेहतरीन सर

    Liked by 3 people

  3. Your poem writing is beautiful. I did not find any word. Ek khamosi ko kaise samjhana padate hai,aapka kavita se sikhana padega.ok .Very nice.

    Liked by 2 people

  4. Very well said in the poem. It is said that in many situations it is better to share our emotions, feelings, anger, anxiety, frustrations as it relieves us from the stress and strain and also helps in rebuilding the relationships.

    Liked by 2 people

  5. काफी अच्छा लिखा है

    Liked by 2 people

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: