# हर ब्लॉग कुछ कहता है #..18

समय कटता नहीं

शिकायत है सभी की, समय कटता नहीं ..

कोशिश तो करते है , समय बटता नहीं

आदमी दोहरी बातें करने का आदि है ,

दोस्तों से कहता है , समय मिलता नहीं .||.

दोस्तों..

कभी कभी ज़िन्दगी में ऐसी परिस्थितियाँ आ जाती है कि मन बेचैन हो जाता है | समझ में नहीं आता है कि इसका मुकाबला कैसे किया जाए. |

जी हाँ दोस्तों .. मैं आज के वर्तमान स्थिति, जिसे हम  कोरोनाकाल भी कह सकते है, कि  बात कर रहा हूँ |

पिंजरे में कैद जानवरों की तरह हम सभी लगभग  डेढ़ साल से अपने घरों में कैद है | हमलोगों की  सारी दिनचर्या अस्त – व्यस्त हो गयी है | यह भी पता नहीं है कि यह स्थिति कब सामान्य होगी ?

मैं आज बहुत दिनों के बाद मोर्निंग वाक के लिए  पार्क में गया था | वहाँ पहले से स्थिति काफी बदली – बदली सी नज़र आ रही थी |

और दिनों की अपेक्षा बहुत कम लोग ही पार्क में दिख रहे थे, खास कर कुछ बुजुर्ग लोग थे | वे सभी  लोग एक जगह इकत्र हो कर आपस में बातें कर रहे थे |

सभी के चेहरे मास्क से ढके थे और  सोशल डिस्तेंसिंग (social distancing) का पालन कर रहे थे | उनके चेहरे पर चिंता और  डर के साथ साथ बेबसी  साफ़ दिख रही थी |

हाँ, एक और बात मैंने नोटिस किया कि पक्षी गण  ज्यादा खुश नज़र आ रहे थे | उनका झुण्ड  बेख़ौफ़ हो पेड़ों पर शोर मचा रहा था और यह सब देख कर मन को अच्छा लग रहा था |

मैं वाकिंग  ट्रैक पर तेज़ क़दमों से टहल रहा था तभी हमारे एक बुजुर्ग साथी ने मुझे देखा और  हाथ के इशारे से बुला लिया | मैं भी उनलोगों के ग्रुप में शामिल हो गया |

सभी लोग बैठ कर आपस में  दुनियादारी  की बातें कर रहे थे | लेकिन  सबसे मूल प्रश्न था कि   इस महामारी के काल में  अपनी  दिनचर्या का पालन कैसे किया जाए |

स्वाभाविक  है कि इतने दिनों से घर में कैद रहने के कारण, मानसिक और  शारीरिक स्वास्थ पर काफी असर पड़  रहा था |

किसी ने अचानक मुझसे प्रश्न किया …आप बताएं कि आप इन दिनों अपने समय का उपयोग कैसे करते है ? आपको देखने से नहीं लगता कि आप को घर के अन्दर बंद रहने पर भी कोई परेशानी है |

मैं उनकी बातों को सुन कर मुस्कुरा दिया | मैंने कहा… मुझे तो पता नहीं चलता कि दिन कैसे बीत जाता  है,  क्योकि मैं अपने दिन को हर तरह से व्यस्त रखता हूँ |

सभी लोग मेरी ओर आश्चर्य से देखने लगे | मैं उनकी जिज्ञासा को शांत करने के ख्याल से अपनी  दिनचर्या के बारे में विस्तार से उन्हें बताने लगा |

मैंने कहा …, मैंने एक नया शौक  पाल रखा है | मैं आज कल ब्लोगिंग ( blogging) कर रहा हूँ .. .मतलब ब्लॉग लिखता हूँ और दूसरों के ब्लॉग को पढता हूँ |

 इस तरह सोशल मीडिया में बहुत सारे लोगों से मेल जोल कर रहा हूँ | उनसे अपने विचारों का आदान प्रदान करता हूँ | यह शौक अब हमारे ज़िन्दगी का हिस्सा बन गया है | मैं अपने इस शौक को पुर्णतः एन्जॉय करता हूँ |

इससे मुझे बहुत कुछ सिखने का मौका मिल रहा है,  यहाँ तक कि हम अपने शरीर और मन को कैसे फिट रख सकते है, इन सब बातों की जानकारी भी इससे मिलती है |

मैं  अपना  ध्यान नयी – नयी किताबों और लेखो को पढने में लगाता  हूँ | यह हमारे व्यक्तित्व के विकास में मदद करता  है | मैं लगातार कुछ न कुछ नयी चीज़ सीखता रहता हूँ |

ब्लॉग लिखने के बहुत से फायदे भी मिल रहे है … समय का प्रबंधन करना, अपनी जानकारी को बढ़ाना , और अब जब दोस्तों से मिलना जुलना लगभग बंद है तो ऑनलाइन दोस्तों के साथ समय बिताने का मौका मिलता है |

इसी क्रम में मेरा एक ख़ास मित्र मेरे ब्लॉग रचना में मेरी मदद करता है, क्योकि वह  हिंदी साहित्य के ज्ञान का भण्डार है |  उससे रोज़ कुछ न कुछ सीखता रहता हूँ |

मैं इसके लिए अपने मित्र का ऋणी रहूँगा | उसके कारण ही मैं ब्लोगिंग ( blogging) सिख रहा हूँ, …कविता लिखना सिख रहा हूँ …,और  इसके आलावा creative art .., ड्राइंग एंड पेन्टिंग भी सिख रहा हूँ |  

ब्लॉग लिखने के कारण  हमारे अन्दर creativity पैदा  हो रही है  | नए  सोच और नए विचार रोज़ मेरे मन में आते है जिसे मैं  कलमबद्ध करता हूँ  |

 इस तरह दिन कैसे कट जाते है पता ही नहीं चलता और यह शौक हमें हमेशा खुश रहने में मदद करता है |

यह सच है दोस्तों, अगर आप खुश नहीं हैं तो यह आपके जीवन के अन्य पहलुओं को भी प्रभावित करेगा।

इसलिए, आपको उन चीजों को अत्यधिक महत्व देना चाहिए जो आपकी खुशी में मदद करते  हैं | मेरे लिए ब्लोगिंग (blogging) का शौक एक  तरह का अपने आप को पहचानने और उसे दुनिया के सामने प्रस्तुत करने का एक माध्यम बन गया है ।

आप को मेरा यह प्रयास कैसा लगा …,आप ज़रूर बताएँगे |

कमेंट सेक्शन में जाकर अपने विचार व्यक्त कर हमें  प्रोह्साहित कर सकते है  |

भगवान् मेरी रक्षा करे हेतु नीचे link पर click करे..

https://wp.me/pbyD2R-2Ap

BE HAPPY….BE ACTIVE….BE FOCUSED….BE ALIVE…

If you enjoyed this post, please like, follow, share and comments

Please follow the blog on social media …link are on contact us page..

www.retiredkalam.com



Categories: मेरे संस्मरण

19 replies

  1. Very nice

    Liked by 1 person

  2. Passing time is with our hand.Your nice replies and experiences may motivate them.

    Liked by 1 person

  3. Very nice

    Liked by 1 person

  4. Yes, blogging is an enjoyment and passion both, for me…. happy to know that you too have started enjoying blogging….

    The initial stanza of this post reminded me of the below line about “samay”…
    ” yahan ghadi to sab ke pass hai, par waqt kisi ke pass nahi”…

    Liked by 3 people

    • Absolutely correct dear …
      yahan ghadi to sab ke pass hai, par waqt kisi ke pass nahi..
      But , how we utilize our time is important.
      .I am enjoying this new hobby because I have found so many friends like you..
      Stay connected and stay happy..

      Liked by 1 person

  5. बेहद उमदा 💕😊

    Liked by 2 people

  6. Thank you Dear,
    Stay blessed..

    Like

  7. बहुत सुन्दर प्रस्तुति

    Liked by 1 person

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: