# एक अधूरी प्रेम कहानी #..20

जीवन के इस कठिन दौर में आप स्वस्थ रहें, मस्त रहें …
इन्ही कामना के साथ….. सुप्रभात दोस्तों..

Retiredकलम

source:Google.com

आपके है कौन ?

आज सुबह जब रामवती की नींद खुली तो मन बड़ा उदास लग रहा था | किचन में जाकर राजू के लिए दूध बना रही थी और सोच रही थी … रात में सुमन के द्वारा की गई सारी बात उसने ध्यान से सुनी थी |

अब पूरी तस्वीर साफ़ हो चुकी है कि रघु वही है जो उसका पति है और वो हरिया के साथ ही रहता है | सुमन भी यही है , जिसके बारे में मेरी धारणा थी कि वो जादूगरनी है और उसने मेरे पति को जबरदस्ती फांस रखा है |

लेकिन सुमन को देखने के बाद मेरे विचार पूरी तरह बदल गए है | वो वैसी बिलकुल नहीं लगती है | अब तो इसके प्रति हमारे दिल में इतना प्यार हो गया है कि ,मेरे मुख से कुछ भी ख़राब उसके लिए निकल ही नहीं सकता |

अब सवाल है कि…

View original post 1,522 more words



Categories: Uncategorized

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: