# कोरोना की दशहत #

दोस्तों ,

हम सब पहले झोला छाप डॉक्टर के बारे में सुनते रहते थे, ये हमारे गाँव – देहात के लोगों का एक डॉक्टर की तरह इलाज करते हैं  | चूँकि गाँव में डॉ की कमी है  और इलाज ज्यादा खर्चीला होने  के कारण गाँव वाले  इन झोला छाप डॉक्टरों से बे-झिझक इलाज करवाते है  |..

आज करोनाकाल में भी कुछ ऐसा ही नज़ारा देखने को मिल रहा है |

आये दिन रोज़,  कोई ना कोई बाबा .. सोशल मीडिया पर खुद को डॉक्टर की तरह समझ कर  प्रवचन देते रहते है |  कोरोना से बचने के लिए तरह तरह के घरेलु नुस्खे बताते रहते है  और अगर कोरोना हो जाये तो उसे ठीक करने हेतु नुस्खे भी बताते है | 

वे दावा भी करते है कि उनका नुस्खा सबसे कारगर है |  

अगर यह सच है तो कोरोना के मरीज़ दिन ब दिन क्यों बढ़ रहे है, यह भी एक शोध का विषय है |

आइये जानते है वह किन किन घरेलु  नुस्खों की बाते बताते है …..

  • रोज तीन टाइम चाय पिएं…
  • प्याज और सेंधा  नमक खाएं
  • नाक में निम्बू का रस डालें..
  • कपूर की पोटली बना कर सूंघे..
  •  चार टाइम भाप लें और गर्गिल करें..
  • रोज चार  टाइम काढ़ा पिएं ….
  • गो-मूत्र और गाय के गोबर से स्नान करें.. इत्यादि

आज कल यह देखा गया है कि कोरोना का सही इलाज़ ना मिलने या उसमे देरी होने से मरीज़ को बचाना बहुत मुश्किल हो जाता है |

हम रोज अखबारों में पढ़ रहे है कि उपचार हेतु हॉस्पिटल में देरी से पहुँचने  के कारण मरीजों को बचाने  में डॉक्टर अपने को असमर्थ पाते है |

इसलिए इस घरेलु इलाज़ के भरोसे रहना ठीक नहीं है और सही डॉक्टर से समय पर इलाज करवाना ज़रूरी है |

आज परिस्थिति बहुत भयावह हो गई है | अब तो इसका प्रकोप गाँव तक पहुँच चूका है | ऐसे में सभी लोग को मेडिकल सुविधा मिलना मुश्किल है , इसलिए यह ज़रूरी है कि  हम सभी  स्वयं को इस रोग से अपने को सुरक्षित रखें | इसके लिए  सरकार  द्वारा सुझाए गए  प्रोटोकॉल को पालन करना बहुत ज़रूरी है |..   

विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक़, कोरोना वायरस से ख़ुद को सुरक्षित रखने का सबसे बेसिक और महत्वपूर्ण उपाय  सुझाए गए है, आइये उसके बारे में चर्चा करें….

  • अपने हाथों को समय-समय पर धोते रहें. :

हम सफ़ाई से रहें. साफ़-सफ़ाई का ध्यान रखना सबसे ज़रूरी है | समय-समय पर साबुन और पानी से हाथ धोएं. या आप चाहें तो एक अल्कोहॉल बेस्ड सैनेटाइज़र भी इस्तेमाल कर सकते हैं. सैनेटाइज़र को हाथों पर अच्छी तरह लगाएं. इससे अगर आप के हाथ पर वायरस मौजूद हुआ भी तो समाप्त हो जाएगा |.

  • अपनी मुँह -आंखों को छूने से बचें  :

अपनी आँख, नाक और मुंह पर भी हाथ लगाने से बचें |  हम अपने हाथ से कई सतहों को छूते हैं और इस दौरान संभव है कि हमारे हाथ में वायरस चिपक जाए. अगर हम उसी अवस्था में अपने नाक, मुंह और आंख को छूते हैं तो वायरस के शरीर में प्रवेश की आशंका बढ़ जाती है |.

  • अगर आप छींक रहे हैं या फिर खांस रहे हैं तो अपने मुंह के सामने टिश्यू ज़रूर रखें और अगर आपके पास उस वक़्त टिश्यू ना हो तो अपने हाथ को आगे कर कोहनी की ओट में छीकें या खांसें |. 
  • सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें :

आप अपने आस पास के लोगों से कम से कम दो मीटर की दुरी  बनाए  रखें. |

इसके अलावा यह सलाह दी गई है कि  आप  अपने घरों में ही रहें और जब तक बहुत ज़रूरी ना हो घर से बाहर ना निकलें. ताकि संक्रमित लोगों के संपर्क में आने से बचा जा सके. |

  • मास्क लगाना बेहद ज़रूरी है ..

मास्क पहनना बहुत ही आवश्यक है | लेकिन अगर आप किसी ऐसे मास्क का इस्तेमाल करते हैं जो एकदम साधारण है तो वो आपके लिए मददगार नहीं होगा | ऐसा इसलिए क्योंकि ये मास्क बहुत ढीले होते हैं और इससे मुँह और नाक  को सुरक्षा नहीं मिलती है.| जब आप के घर कहीं आस पास कोरोना से संक्रमित मरीज हो या हॉस्पिटल में जा रहे हो , तो  standard  quality का मास्क सही ढंग से लगायें |

मास्क फिट और पूर्ण ढका  बैठना चाहिए ताकिन आस पास से कोरोना वायरस घुस ना सके | साथ ही इन्हें बहुत लंबे वक़्त तक इस्तेमाल नहीं किया जा सकता |

6. यहां ये याद रखने की ज़रूरत है कि कोरोना वायरस के जितने मामले अभी तक सामने आए हैं उनमें से बहुत से मामले ऐसे हैं जिसमें संक्रमित लोगों में कोई लक्षण नज़र नहीं आया लेकिन जब उन्हें टेस्ट किया गया तो वे पॉज़ीटिव पाए गए | और दूसरी तरफ ऐसे भी मामले आ रहे है कि लक्षण होते हुए भी टेस्ट नेगेटिव आ रहे है  | ऐसे में थोडा सजग होने की ज़रुरत है और समय पर इलाज शुरू कर देना ज़रूरी है |

ऐसा कहा जा रहा है कि कोरोना का इलाज में  डेक्सामैथासोन और दूसरी कारगर दवाइयां से मरीज़ ठीक हो रहे हैं |

इस महामारी के दौरान अपने मानसिक स्वास्थ्य को बनाये रखना ज़रूरी है :

यह स्वाभाविक है कि इस महामारी के इस दौर में मानसिक तनाव हो सकता है |.

 आपको बेचैनी महसूस हो रही हो,,  आप तनाव महसूस कर रहे हों, , परेशान हो रहे हों, , अकेलापन महसूस कर रहे हों |

यह देखा गया है कि कोरोना के रोगी को दवा के आलावा मानसिक तनाव को कम करने के उपाय बहुत ही फयदेमद हो सकते है ..क्योकि मानसिक तनाव से हमारी  इम्युनिटी पॉवर पर विपरीत असर पड़ता है | ..

इसके लिए ब्रिटिश नेशनल हेल्थ सर्विस ने कुछ  टिप्स दिए हैं जिससे आप अपने मानसिक स्थिति को बेहतर बनाए रख सकते हैं और .मन को शांत और मजबूत रख सकते है |

– अपने दोस्तों और परिवार के लोगों के साथ फ़ोन, या  वीडियो कॉल या फिर सोशल मीडिया के माध्यम से संपर्क में बने रहें |.

– उन चीज़ों के बारे में बात करते रहें जिससे आपको परेशानी हो रही हो, ताकि उसका समाशन तुरंत मिल सके |

– दूसरे लोगों को भी समझने की कोशिश करें, ज्यादा भावुक ना बनें ?

– अपनी नई दिनचर्या को व्यवहारिक तरीक़े से प्लान करें |

– अपने शरीर का ध्यान रखें. नियमित व्यायाम और ख़ान-पान का ध्यान रखें |.

– आप जहां से भी जानकारियां ले रहे हों वो क्रेडिबल सोर्स हो और इस महामारी के बारे में बहुत अधिक ना पढ़ें |.

– अपने व्यवहार को अपने नियंत्रण में रखें |.

– अपने मनोरंजन का भी पूरा ध्यान रखें. मनपसंद गाने सुने |

– वर्तमान पर फ़ोकस करें और यह याद रखें कि यह समय चिर-स्थायी नहीं है, |

– अपनी नींद को किसी भी तरह से बाधित ना होने दें, समय पर और पूरी नींद लें |.

  • ऐसा काम करें जिससे positivity की ओर बढ़ावा मिले और नेगेटिव बातों से दूर रहे |   जिस काम को करने से ख़ुशी महसूस होती हो, वह काम ज़रूर करें |.

और अंत में मैं यही निवेदन करना चाहूँगा कि ….

हम भारतीयों को अपने परिवार, अपने रिश्तेदार, अपने बच्चे, अपने करीबी दोस्तों, अपने समाज को बचाने के लिए अपना कर्त्तव्य, अपना फ़र्ज़ निभाना होगा |

हर हाल में covid  प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन कीजिये और  अगर आपने अभी तक  कोरोना का वैक्सीन  नहीं लगवाया है तो ज़रूर लगवा लें |  करोना से बचने का यही एक मात्र विकल्प है |

यह कहावत हमेशा याद रखना है कि डर  के आगे जीत  है और अगर हमें जितना है तो इस डर  से हर हालत में पार पाना ही होगा |

पहले की ब्लॉग  हेतु नीचे link पर click करे..

https:||wp.me|pbyD2R-1uE

BE HAPPY….BE ACTIVE….BE FOCUSED….BE ALIVE…

If you enjoyed this post, please like, follow, share and comments

Please follow the blog on social media …link are on contact us page..

www.retiredkalam.com



Categories: health

13 replies

  1. Ayurvedic treatment is good for increasing immunity. But Carona has many faces like demon Ravan.Let Ram born,kill the demon.

    Liked by 1 person

  2. Truly said sir,
    But corona has to go one day. That depends on us..
    We should follow Govt. protocol..
    Thank you for your beautiful comments..

    Like

  3. I agree. These quacks should be identified and posted in hospitals to take care of corona patients.

    Liked by 1 person

  4. आपने सच्चाई बयां की है झोलाछाप डॉक्टर

    Liked by 1 person

    • जी , यह आज भी सच्चाई है |

      गाँव देहात में लोग आज भी झोला छाप डॉक्टर से इलाज़ ले रहे है |

      Like

  5. बचाव करें सही डरें नहीं ।

    Liked by 1 person

    • बिलकुल सही |

      कोरोना इतनी जल्दी हमारे बीच से जाने वाला नहीं है |
      इसीलिए बचाओ पर ध्यान देना ज़रूरी है और सही दिशा निर्देश का पालन करना होगा |
      आप स्वस्थ रहें …खुश रहें..

      Like

Leave a Reply to Mahavish Cancel reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: