# एक अधूरी प्रेम कहानी #..13

खैरियत से हूँ मैं , मेरे शहर में ,
तुम अपने शहर में, अपनी हिफ़ाज़त रखना..
किसी का हाथ छुना नहीं …पर,
किसी का साथ छोड़ना नहीं …||

Retiredकलम

source:Google.com

वो कौन थी

आज एक बहुत अच्छी बात हुई | कल के ब्लॉग पर मुझे बहुत सारे कमेंट्स मिलें | उसमे एक कमेंट्स तो ऐसा था कि मैं बस पढ़ कर मुस्कुरा दिया | एक मेरा प्यारा दोस्त ने पूछा कि….

“ड्राईवर ने ऐसा क्या कहा सुमन से कि सुमन का दिल पसीज गया |”

 उसके  माध्यम से सभी दोस्तों को मैं बताना चाहता हूँ कि  सुमन के ड्राईवर ने वापस आकर बताया था कि  … उस औरत का सारा सामान चोरी हो गया है और वो बिहार से अकेले सिर्फ तीन साल के बच्चे के साथ मुंबई आयी है |

यहाँ उसका कोई ठिकाना  नहीं है और जो चार लोग उसके आस पास खड़े है वो सब के  सब गुंडे बदमाश और दलाल किस्म के लोग है | उस औरत को बहला फुसला कर ले जायेंगे और उससे धंधा कराएँगे और उसके  बच्चे से भीख मंगवाएंगे | यह…

View original post 1,580 more words



Categories: Uncategorized

2 replies

  1. क्या अंकल बैंक में प्रेम हुआ था क्या 😂❤️❤️

    Liked by 1 person

    • hahahaha..प्रेम तो हर किसी से होता है …
      प्रदर्शन करने के आयाम अलग है ..
      यह तो कोरोना काल के एक मजदूर की प्रेम कहानी है..
      आशा है आपको पसंद आया होगा..

      Liked by 1 person

Leave a Reply to vermavkv Cancel reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: