ज़िन्दगी तेरी अज़ब कहानी-…9

आँखों में ख़ुशी , लबों पर हँसी , गम का कहीं नाम न हो ,
हर सुबह लाये , आपके जीवन में इतनी खुशियाँ , जिसकी कभी शाम न हो,

Retiredकलम

अंजना को कोर्ट परिसर से जाते हुए उसके चाचा-चाची देख रहे थे | उनलोगों को गुस्सा आ रहा था कि अंजना के कारण उनलोगों को कोर्ट का चक्कर लगाना पड़ रहा है और साथ ही साथ आश्चर्य भी हो रहा था कि वह इतनी मशहूर और ठाठ – बाट की ज़िन्दगी कैसे जी रही है |

आज करीब तीन सालों के बाद उन्होंने अंजना को देखा था | चाची ने सोचा था कि वह कही जाकर आत्महत्या कर ली होगी, लेकिन आज तो अंजना उनके लिए सिरदर्द बन कर सामने प्रकट हो गई है | लगता है मुसीबत के दिन आने वाले है |

इधर कोर्ट केस वाली खबर को पत्रकारों ने एक कहानी बना कर समाचार पत्र में प्रकाशित कर दिया जिसके कारण सारी दुनिया को हकीकत का पता चल गया | समाचार पत्र के माध्यम से ही विजय को भी अंजना और उसके साथ हुए धोखे का पता…

View original post 1,171 more words



Categories: Uncategorized

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: