स्वस्थ रहना ज़रूरी है ..11

ईश्वर ने हमें धरती पर एक खाली चेक की तरह भेजा है,
गुणों और योग्यताओं के आधार पर हमें स्वयं अपनी कीमत उसमें भरनी होती है।

काढ़ा का प्रयोग

दोस्तों,

मैंने चार दिनों पूर्व कोरोना का वैक्सीन लिया था | मैंने पूरी तरह अपने को observation में रखा हुआ था | दुसरे दिन बांह में थोडा दर्द था और  हल्का बुखार जैसा लग रहा था | लेकिन अब मैं बिलकुल ठीक हूँ |

हालाँकि  अभी भी मैं कोरोना से बहुत डर  रहा हूँ  | इस डर के कुछ वाजिब कारण भी है |

पुरे देश में आजकल कोरोना फिर से अपनी रफ़्तार पकड़ चूका है | रोज़ के आने वाले आंकड़े बेहद  डराने वाले है | सिर्फ कल का ही आकड़ा १.oo लाख के पार हो गया | .

अगर यही रफ़्तार रहा तो आगे क्या होगा , कहना बहुत ही मुश्किल है |

दूसरी वजह  यह है कि  हमारे अपार्टमेंट में ही एक बुजुर्ग दम्पति ने 15 दिनों  पूर्व कोरोना का  वैक्सीन लिया था |  इसके बाबजूद वे कोरोना से संक्रमित हो गए | इतना ही नहीं, उनके घर के सभी आठों  सदस्य भी  एक साथ कोरोना की  चपेट में आ गए  | मेरे मन में  सवाल उठाना वाजिब है कि वैक्सीन लेने का फायदा क्या हुआ ?

मैंने सुना है कि वैक्सीन का पहला डोज़ लेते ही शरीर  में एंटी बॉडी बनना शुरू हो जाता है | जब हमारे शरीर में एंटी बॉडी बन रहा होता है तो उन दौरान हमारी इम्युनिटी बहुत कम हो जाती है |

दूसरा डोज़ लेने के बाद तो इम्युनिटी और भी कम हो जाती है |

उसी समय सबसे ज्यादा  सावधानी बरतने की ज़रुरत होती  है | हालाँकि दूसरा डोज़  लेने के 15 दिनों के बाद फिर इम्युनिटी में इजाफा हो जाता है | और आदमी कोरोना से बहुत हद तक सुरक्षित हो जाता है. |

फिर भी  इस डेढ़ महीने के दौरान इम्युनिटी कम होने के कारण हम कोरोना की चपेट में न आयें…..  इसके लिए कुछ सावधानियां बहुत ही आवश्यक है ….

  •  पहले डोज़ के डेढ़ माह तक अपने को सुरक्षित रहना बहुत ज़रूरी है | घर से बाहर अगर बहुत  ज़रूरी हो तभी जाना चाहिए |
  • मास्क का प्रयोग नितांत आवश्यक है और  sanitizer  का प्रयोग निर्देशानुसार करते रहना चाहिए |
  • एक दूसरे से निश्चित दूरी बनाये , भीड़ वाली जगह से बचे, .लापरवाही बिलकुल न बरते |
  • गरम पानी पीना और भाप लेते रहना चाहिए |
  • उपवास न करें ,  कोई भी खाली पेट न रहे |
  • रोज एक घंटा धूप लें , AC का प्रयोग न करें |
  • सरसों का तेल नाक में लगाएं , घर में कपूर वह गूगल जलाएं |
  • रात को एक कप दुध में हल्दी डालकर पिये ,  हो सके तो एक चम्मच चवनप्राश खाएं |
  • फलों में संतरा ज्यादा से ज्यादा खाएं और आंवला किसी भी रुप में चाहे अचार, मुरब्बा,
    या चूर्ण इत्यादि खाएं ।
  • बाहर से घर आते ही कपडे अलग कर गरम पानी से स्नान करना चाहिए. |
  • इस समय का कोरोना (अफ्रीकन स्ट्रेन) पुरे परिवार को एक  साथ चपेट में लेता है |
  • इसके अलावा सुबह उठ कर गर्म पानी और निम्बू का प्रयोग करना चाहिए |
  • और सबसे ज़रूरी इन सबो के अलावा देशी और घतेलु इलाज़ भी काफी कारगर साबित हो सकता है |

देशी इलाज़ में काढ़ा का उपयोग के बारे में यहं हम चर्चा कर रहे है …

कोरोना महामारी के इस दौर में हमें अपनी इम्यूनिटी मजबूत बनाए रखने की सलाह दी जा रही है। शुरुआत से ही यह बात कही जा रही है कि कमजोर इम्यूनिटी वाले लोगों को कोरोना आसानी से अपनी चपेट में ले सकता है।

ऐसे में इम्यूनिटी मजबूत करने के लिए देश के ज्यादातर घरों में जिस एक चीज का सेवन बढ़ा है, वह है आयुर्वेदिक काढ़ा

source: Google.com

कोरोना संक्रमण से बचने के लिए जरूरी उपायों में काढ़ा पीना भी हमारी दिनचर्या का हिस्सा बन चुका है। हालांकि पिछले कुछ महीनों से ऐसा भी लगातार सुनने को मिल रहा है कि काढ़ा का ज्यादा सेवन हानिकारक हो सकता है।  ज्यादा काढ़ा पीने से खासतौर से लिवर को नुकसान पहुंच सकता है।

हालाँकि काढ़ा पीने की सलाह देने वाले आयुष मंत्रालय ने ऐसे सवालों पर विराम लगाया है। आइए जानते हैं इस पर आयुष मंत्रालय का क्या कहना है :

आयुष मंत्रालय ने स्पष्ट किया है कि काढ़ा पीने से शरीर को नुकसान नहीं होता है। मंत्रालय की ओर से यह बताया गया है कि काढ़ा पीने से शरीर स्वस्थ और निरोग बनता है। काढ़ा का सेवन ताउम्र भी किया जा सकता है।

अगर किसी व्यक्ति को काढ़ा का सेवन करने से नुकसान हो भी रहा है तो हो सकता है कि उसे पहले से लिवर की समस्या हो। काढ़ा से नुकसान इस बात पर भी निर्भर करता है कि काढ़ा किन चीजों से और कितनी मात्रा में लेकर बनाया जा रहा है। 

कोरोना से बचाव करने में भूमिका

आयुष मंत्रालय ने कोरोना वायरस संक्रमण से बचने के लिए इम्यूनिटी बढ़ाने को लेकर काढ़ा पीने, हल्दी युक्त दूध पीने, , च्यवणप्राश का सेवन करने आदि उपाय करने का सुझाव दिया था।

आयुर्वेद के अनुसार काढ़ा में इस्तेमाल होने वाले मसाले,  औषधि की तरह होते हैं, जो प्रकृति द्वारा स्वस्थ शरीर के लिए दी गई अमूल्य विरासत हैं।

आयुष मंत्रालय की ओर से तुलसी, काली मिर्च, दालचीनी, अदरक और किशमिश का उपयोग कर काढ़ा तैयार करने की सलाह दी गई थी।

 साथ ही काढ़ा का सेवन दिन में दो बार करने के लिए कहा गया है।

नियमानुसार काढ़ा का सेवन करें ताकि आपका शरीर निरोग रहे और कोरोना वायरस संक्रमण से बचे रहें।

काढ़ा में इस्तेमाल की गई सामग्री प्राकृतिक हैं और भारतीय समाज में भोजन बनाने में इनका उपयोग नियमित तौर पर होता रहा है।

मालूम हो कि कोरोना वायरस हमारी श्वसन प्रणाली पर ही सबसे पहले हमला करता है और काढ़ा के सेवन से हमारा श्वसन तंत्र भी मजबूत होता है और रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। 

घर पर बना सकते हैं काढ़ा 

तुलसी की चार पत्तियां लें, एक लौंग,  थोड़ी दालचीनी और 5-10 ग्राम अदरक, सभी को  एक साथ कूट  लें। 

अब डेढ़ कप कप पानी में इसे उबालें और जब यह एक कप रह जाए तो उसमें शहद डालकर पी सकते हैं। 

डायबिटीज पीड़ित लोग चीनी या शहद न मिलाएं। मंत्रालय की वेबसाइट पर और भी विस्तार से जानकारी दी गई है

इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए क्या करें

  • चिकित्सकों का कहना है कि इम्यूनिटी यानी रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए फल और दूध का नियमित  सेवन करना भी सही तरीका है।
  • काढ़े का संयमित इस्तेमाल करें ।अपने दिनचर्या में योग और व्यायाम को शामिल करते हुए संयमित भोजन लेना चाहिए। इससे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ जाएगी और इसका शरीर पर कोई नकारात्मक प्रभाव भी नहीं पड़ता है। 
  • काढ़ा अगर ले रहे हैं, तो चाय की तरह एक से दो बार सेवन करना काफी होगा। 

दवाएं न छोड़ें डायबिटीज, ब्लडप्रेशर के मरीज

डॉ. सिंह ने कहा कि अगर कोई ब्लडप्रेशर और डायबिटीज के मरीज हैं तो दवाएं किसी भी हाल में बंद न करें। डॉक्टर से पूछे बिना किसी तरह का कदम उठाना नुकसानदायक हो सकता है। उन्होंने कहा कि हार्ट के मरीजों को भी डॉक्टर से संपर्क में रहना चाहिए।

यह सत्य है दोस्तों, कि कोरोना का दूसरा wave पहले  से ज्यादा खतरनाक और तेज़ है | अतः हमें और ज्यादा सतर्कता बरतने की ज़रुरत है |

हमने कोरोना बीमारी के पहले दौर का मुकबला अब तक सफलता पूर्वक किया है | अब तो  हमारे पास इस कोरोना  बीमारी से लड़ने के लिए बहुत सारी जानकारियाँ और पर्याप्त अनुभव भी है |….

अतः हम सब मिल कर इस कोरोना के दुसरे wave का भी मुकाबला सफलता पूर्वक करेंगे और अंत में जीत हमारी होगी …..

पहले की ब्लॉग  हेतु नीचे link पर click करे..

https:||wp.me|pbyD2R-1uE

BE HAPPY….BE ACTIVE….BE FOCUSED….BE ALIVE…

If you enjoyed this post, please like, follow, share and comments

Please follow the blog on social media …link are on contact us page..

www.retiredkalam.com



Categories: health

5 replies

  1. Useful information. Just tell me if we can go out for morning walk and use open air gyms in park after taking covid vaccine as opinions are divided on the issue. I used to go out for morning walk and also did light exercises in open air gyms even after taking the first dose but people advice me not to do so for 3-4 days after taking vaccine. I have taken my second dose today and don’t want to miss my morning walk and daily gymn exercises. What are your views?

    Liked by 1 person

    • The effect of vaccine is different in different people. . I have taken vaccine three days before
      but still suffering from mild fever where as my elder brother has no such effect.
      I think morning walk may be continued with preclusions. but physical exercise should be avoided for a week..
      ..

      Like

  2. Nice post

    Like

  3. Very useful information about immunity development. Nice.

    Liked by 1 person

Leave a Reply to vermavkv Cancel reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: