मैं जवान हो रहा हूँ

साधारणतया यह देखा गया है कि रिटायरमेंट के बाद की ज़िन्दगी में बोरियत महसूस होने लगती है, क्योंकि अचानक हम Busy life से Empty life में आ जाते है / मुझे भी कुछ दिनों तक ऐसा ही अनुभव हुआ , लेकिन मैं ने कही पढ़ा था कि life में हमेशा खुश रहने के लिए focused रहना ज़रूरी है /

मैं ने भी हमारे बचे हुए life को focus करने के लिए कुछ goal तय किए और उस goal को प्राप्त करने के लिए कुछ नुस्खे को आजमाया जो  हमारे कुछ मित्रों ने सुझाए थे / मुझे समझ आ गया था कि Life is a serious business, handle with care ..

  1. मैं अपने वो कामों का चयन किया .जिसको करने में हमें मज़ा आता था / जी हाँ, मैं पेंटिंग सिखने लगा और साथ साथ Gardening भी करने लगा , लेकिन उस पर ठीक से focus नहीं कर पा  रहा था , तो फिर मैं रोज dairy लिखने लगा, ओर इसमें बहुत आनंद आने लगा / मुझे लगा कि इसी पर focus करना चाहिए, और मैं रोज कुछ कुछ dairy में लिखने लगा /..
  2. मैं रोज का एक टारगेट फिक्स किया कि हर हाल में एक blog लिखूंगा , और इसमें हमें मजा आने लगा और दिन भर ख़ुशी का अनुभव करने लगा /
  3. अपने इन hobby पर focus करने से यह फायदा हुआ कि मैं दुसरे दुःख दर्द जो हमेशा दिमाग ने बिष बनकर घूमते रहता था ,उससे ध्यान धीरे धीरे हटने लगा और ज़िन्दगी ख़ूबसूरत लगने लगी /
  4. मैंने बहुत सारे hobby एक साथ शुरू किए थे ,उसे धीरे धीरे कम कर सिर्फ एक पर ले आया जिसको करने में सबसे ज्यादा मज़ा आता था /मुझे पहले लिखने का शौक नहीं था, लेकिन अब  धीरे धीरे confidence आता गया / यह सही है पहले मैं कभी कभी कुछ नहीं लिख पाता था ,लेकिन focused activity बना कर काम करने से आसानी महसूस होने लगी /
  5. कभी कभी कुछ लिखते लिखते बोर हो जाता हूँ  तो change के लिए पेंटिंग करने या Gardening करने लग जाता हूँ इससे किसी काम में बोरिअत हीं लगता है , और किसी भी काम से विचलित नहीं होता हूँ /
  6. मैंने कही पढ़ा था कि Body, mind ,emotion, और soul जो ज़िन्दगी के अभिन्न अंग है उसे balance रखना चाहिए ,तब ही ज़िन्दगी में सफलता और ख़ुशी मिलती है / मैं एक दुसरे पर कभी हावी नहीं होने देना चाहता हूँ /
  7. मैं जब कभी तकलीफ से घिर जाता हूँ तो अपने मन को शांत कर उसका solution ढूंढता हूँ / और कभी गलत decision हो भी जाती है तो खुद को दोषी नहीं मनाता हूँ, बल्कि उसे correct करने का प्रयास करता हूँ ..

इस तरह मैं अपने आप को focused रहने का प्रयास करता हूँ / और अब मेरी ज़िन्दगी में बोरियत नहीं होती..तभी तो मेरे एक मित्र ने मुझ पर comments  किया था कि मैं दिनोदिन जवान दिखने लगा हूँ ? ,तो फिर क्या था, मैं ने उनके इस बात पर अपने अल्उफाजों को कुछ इस तरह सजाया है ………

कहते है लोग.. मैं जवान हो रहा हूँ,

…..छुहाड़ा से अनार हो रहा हूँ

जवान दिखने  का राज़ पूछते है.. जमाने वाले,

कैसे कहूँ ज़िन्दगी में कितने ही ..फँसाने पाले

  ज़िन्दगी रूपी कैनवास पर

अब , पसंद के रंग गढ़ता हूँ…

ख्वाबों की तस्वीर  .

हकीकत में  पढ़ता हूँ..

पहले लोगों के लिए जीता था,

अब अपने लिए भी जीता हूँ

जवान दिखने के लिए  कलह का विष नही ..

 समझौतों  का अमृत पीता हूँ…

इसलिए तो मैं अब  जवान दिखता हूँ…??

              ….विजय वर्मा

BE HAPPY… BE ACTIVE … BE FOCUSED ….. BE ALIVE,,

If you enjoyed this post don’t forget to like, follow, share and comments.

Please follow me on social media..

Iwww.retiredkalam.com

2 thoughts on “मैं जवान हो रहा हूँ

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s