ज़िन्दगी एक पहेली

अपने  दिल को सुरक्षित रखे, यह बहुत नाजुक होता है। कुछ छोटी छोटी बातें और घटनाये इस पर गहन प्रभाव छोड़ देती है। एक बहुमूल्य पत्थर को जोड़ कर रखने के लिए सोने और चांदी की परत देनी पड़ती है। उसी तरह ज्ञान और विवेक की परत आपके दिल को दिव्यता से जोड़ कर रखती है।

मन और दिल को साफ और स्वास्थ्य रखने के लिए दिव्यता से उत्तम कुछ भी नहीं है। फिर गुजरता हुआ समय और घटनाये आपको स्पर्श भी नहीं कर पायेंगी और न कोई घाव दे पाएगी।

लम्बा  वक़्त लगा ज़िन्दगी तुझे समझने में

जल्दी समझ लेता शायद तो बेहतर होता

लोग तो देर नहीं करते मुझे परखने में

हुनर ये मुझे भी आता तो बेहतर होता

बच्चा रहा मैं  रिश्तो को समझने में

थोडा समझदार होता तो बेहतर होता

हर दांव खेला है तू  मुझे पटकने में

थोडा दांव मैं भी सीख लेता तो बेहतर होता..

बेवजह गवायाँ है समय तुम्हें खरचने में

मैं तुझे पहले परख लेता तो बेहतर होता..

सुमार कर लिया खुद को तनहा भटकने में

जैसा भी था मैं वही रहता तो बेहतर होता

मौका तो दिया था तू  ज़िन्दगी सँभालने में 

तुम्हारा इशारा पहले समझ लेता तो बेहतर होता…

                            …….विजय वर्मा

BE HAPPY… BE ACTIVE … BE FOCUSED ….. BE ALIVE,,

If you enjoyed this post don’t forget to like, follow, share and comments.

Please follow my Blog and click the link below…

http://www.retiredkalam.com

 

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s